नई दिल्ली: दूरसंचार सेवा प्रदाता(टीएसपी) कंपनियों ने कॉल ड्रॉप की समस्या से निपटने के मकसद से अपने आधारभूत ढांचे के विस्तार और अपग्रेड के लिए 74 हजार करोड़ रुपये निवेश करने की प्रतिबद्धता जताई है. दूरसंचार सचिव अरुणा सुंदराजन ने मंगलवार को यहां इसकी जानकारी दी. भारती एयरटेल और रिलायंस जियो जैसी टीएसपी की बड़ी कंपनियों के अधिकारियों ने कॉल ड्रॉप के मुद्दे पर चर्चा के लिए दूरसंचार सचिव से मुलाकात की.

कॉल ड्रॉप

सुंदरराजन ने कहा कि एयरटेल ने आधारभूत ढांचे के लिए 16 हजार करोड़ रुपये का निवेश किया है और आगे 24 हजार करोड़ का निवेश करेगी. उन्होंने कहा कि रिलायंस जियो आने वाले वित्त वर्ष में एक लाख टावर लगाने के लिए 50 हजार करोड़ रुपये निवेश करेगी.


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


ट्राई ने कॉल ड्रॉप को लेकर मोबाइल कंपनियों पर कस दिया जोर का शिकंजा

कॉल ड्राप रोकने के लिए भारती एयरटेल, रिलायंस जिओ समेत दूसरी बड़ी कंपनियां वित्त वर्ष 2018-19 में 74000 करोड़ रुपये का निवेश करेंगी. ये खर्च खासतौर पर इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत करने पर किया जाएगा. दूरसंचार सचिव की अध्यक्षता में टेलिकॉम कंपनियों के साथ हुई बैठक में टेलीकॉम कंपनियों ने टावर्स की संख्या बढ़ाने का वादा किया. बैठक के बाद टेलिकॉम सचिव ने ये जानकारी दी. दिल्ली मुम्बई और बिहार जैसे राज्यो में कॉल ड्राप की समस्या गंभीर है. जिसके लिए टेलीकॉम कंपनियों को खास निर्देश भी दिए गए हैं.

ये भी देखिए…

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...