किसी फ़िल्मी फैमिली में जन्म लेने पर ग्लैमर की तरफ रुझान होना नार्मल बात है. इसे नेपोटिज्म कहें या जो भी, लेकिन हमेशा से घर में पारिवारिक माहौल कम और फ़िल्मी माहौल ज्यादा पाने पर स्टार किड्स का इंटरेस्ट उसमें होना कोई बड़ी बात नहीं है. सैफ की बेटी सारा का भी यही हाल है, जो एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के अपोजिट ‘केदारनाथ’ से बॉलीवुड डेब्यू करेंगी.

सारा अपनी पहली पारी के लिए जितनी उत्साहित हैं, उतनी ही नर्वस भी. लेकिन इससे ज्यादा टेंशन सैफ अली खान को है. आप सोचेंगे कि ऐसा क्यों? तो जनाब यहाँ चीजें जितनी आसान दिखती हैं, उतनी होती नहीं हैं. अगर ऐसा न होता, तो सैफ, सारा के लिए चिंतित न होते.


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


एक इंटरव्यू में सैफ ने बताया कि शोबिज वर्ल्ड में होने का फायदा जहाँ ये होता है कि आपको नाम और शौहरत मिलती है, वहीं इसका नुकसान भी होता है. वो ये कि अगर एक फिल्म भी फ्लॉप होती है, तो इसके बाद आपका भविष्य क्या होगा, इसकी गारंटी कोई नहीं ले सकता.

आपत्तिजनक शब्दों और सीन्स से भरी सैफ की कालाकांडी को मिली हरी झंडी, जल्द आप भी देखोगे

सारा टैलेंटेड तो हैं, लेकिन इंडस्ट्री के दांव-पेंच से पूरी तरह वाकिफ नहीं हैं. वो अपनी बेटी के हर फैसले की कदर करते हैं. सैफ ने ये तक बताया कि सारा ने कभी भी उनसे ‘केदारनाथ’ का कोई भी काम डिस्कस नहीं किया. सारा ने सिर्फ सैफ को ये फिल्म करने की जानकारी दी थी.

अपनी बेटी को एडवाइस देने की बात पर सैफ ने बस यही कह कर बात पूरी की कि एक आर्टिस्ट के तौर पर सारा जैसा भी काम करें, वो ईमानदारी के साथ करें.

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...