बीते लंबे समय से संजय लीला भंसाली की फिल्‍म ‘पद्मावत’ विवादों के बीच में घिरी हुई है। इन विवादों के चलते पहले तो फिल्‍म की निर्धारित रिलीज डेट कैंसिल की गई। फिर जैसे-तैसे कोर्ट और सेंसर बोर्ड की ओर से फिल्‍म को रिलीज करने की डेट फाइनल की गई, इसको लेकर विवाद और भी ज्‍यादा बढ़ते चले गए। कुछ धर्म विशेष की ओर से फिल्‍म को रिलीज न होने देने की मांग उठाई गई। वहीं कुछ ने तो इसके रिलीज होने पर आत्‍मदाह की धमकी तक दे डाली। वहीं बीते दिन फिल्‍म को लेकर इन सबसे जुदा एक सुर कुछ अलग ही बुलंद हुआ है। इस सुर के हिसाब से इस फिल्‍म पर बैन लगाने की मांग करने वाले पहले समाज की तीन बड़ी चीजों पर बैन लगवाएं। आपको बता दें कि ये सुर बुलंद करने वाली कोई और नहीं बल्‍कि एक महिला हैं। इनका नाम है रेनुकाश। आइए गौर करें, देश और समाज में इस समय चल रही बयार से अलग हटकर ऐसा क्‍या सोचने पर मजबूर कर रही हैं रेनुकेश।

सोशल मीडिया पर दिया मैसेज
इन दिनों फिल्‍म ‘पद्मावत’ को लेकर चल रहे बवालों की जैसे एक लहर सी उठी हुई है। जहां देखों वहां इस फिल्‍म के विरोध में प्रदर्शन हो रहे हैं। वहीं इस लहर को चीरती हुई एक महिला की आवाज बीते दिन सोशल मीडिया पर वायरल हो चली। इनका नाम सामने आया रेनुकाश। इन्‍होंने फिल्‍म पर बैन लगाने की आवाज बुलंद करने वालों के नाम ट्विटर पर एक संदेश दिया है।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


कुछ ऐसा है वो संदेश
रेनुकाश ने अपनी तस्‍वीर के साथ ट्विट करते हुए लिखा है कि वह लोग जो ‘पद्मावत’ पर बैन लगवाना चाहते हैं। वह पहले देश में बढ़ रहे यौन उत्‍पीड़न, कन्‍या भ्रूण हत्‍या, और बलात्‍कार जैसे कुकृत्‍यों पर बैन लगवाएं। गौरतलब है कि बीते कुछ महीनों में इन तीनों सामाजिक दुष्‍कृत्‍यों का ग्राफ़ देखते ही देखते और भी ज्‍यादा बढ़ा है। ऐसे में रेनुकाश जैसी महिला ने फिल्‍म पर बैन लगवाने में अपना समय खपाने वालों को इन दुष्‍कृत्‍यों की ओर भी ध्‍यान देने के लिहाज से ये ट्विट किया। आप भी देखिए सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा इनका ये मैसेज।

सेंसर चीफ़ भी आ चुके हैं लपेटे में
याद दिलाते चलें कि फिल्‍म मेकर संजय लीला भंसाली की फिल्‍म ‘पद्मावत’ को लेकर लोगों का विरोध कम होने का नाम नहीं ले रहा है। ऐसे में ज़रा सोचिए कि भला कैसे रिलीज हो सकेगी आने वाले दिनों में ये फिल्‍म। अब देखिए न, अभी तो सिर्फ फिल्‍म से जुड़े कलाकारों और फिल्‍म मेकर पर ही लोगों का गुस्‍सा उतर रहा था। बीते दिनों तो सेंसर चीफ़ प्रसून जोशी भी इसके लपेटे में आ चुके हैं। सुनने में आया था कि इनके खिलाफ भी अवमानना का नोटिस जारी हो चुका है।

पढ़ें इसे भी : चीनी नर्स ने नवजात के साथ जो किया, उफ! बिग बी को भी डरा दिया

पेटीशन की गई थी फ़ाइल
दरअसल बताया गया था कि कामता प्रसाद सिंघल नाम के एक व्यक्ति ने ‘पद्मावत’ की रिलीज रोकने को लेकर एक पेटीशन फाइल की थी। इसको लेकर जस्टिस महेंद्र दयाल ने आर्डर पास किया है। इससे पहले सिंघल ने ‘पद्मावत’ की रिलीज को रोकने के लिए कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की थी।

ऐसा कहा गया था याचिका में
इस याचिका के तहत उन्होंने कहा था कि फिल्म में सती प्रथा का प्रचार किया गया है, इसलिए इसे रिलीज न होने दिया जाए। इस याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने 9 नवंबर, 2017 को इसे खारिज कर दिया था, लेकिन सिंघल को ये इजाजत दी कि वो अपनी इस शिकायत को सिनेमाटोग्राफ सर्टिफिकेशन रूल्स 1983 के नियम 32 के तहत अपना प्रत्यावेदन पेश कर सकते हैं।

ऐसे भी होनी है रिलीज
याद दिला दें कि बीते दिनों फिल्‍म से जुड़ी एक इंट्रेस्‍टिंग बात ये भी सामने आई थी कि फिल्म को पहली बार भारत और दुनिया के अलग देशों में 2D, 3D और IMAX 3D में रिलीज किया जाएगा। ये देश की पहली ऐसी फिल्म होगी, जो IMAX 3D हिंदी में रिलीज की जाएगी। इसी के साथ मेकर्स ने फिल्म के नए टाइटल ‘पद्मावत’ के साथ फिल्म का पोस्टर भी जारी कर दिया है। इसके बावजूद अभी भी फिल्‍म पर से विवादों के बादल छंटने का नाम नहीं ले रहे हैं।

किए जा चुके हैं पांच संशोधन भी
फिल्म ‘पद्मावती’ का नाम बदलकर ‘पद्मावत’ कर देने और इसमें पांच संशोधन करने के बावजूद इसकी रिलीज को लेकर विवाद अभी भी थमने का नाम नहीं ले रहा है। एक के बाद एक फिल्‍म से जुड़े सितारों और लोगों पर आम जनता का गुस्‍सा उतर रहा है। ऐसे में सोशल मीडिया पर कभी फिल्‍म की एक्‍ट्रेस दीपिका पादुकोण को, तो कभी एक्‍टर रणवीर सिंह और शाहिद कपूर को भी भला-बुरा कहा जाता है।

चित्‍तौड़गढ़ की महिलाओं ने भी फूंका बिगुल
उधर, ये भी सुनने को मिला है कि चित्तौड़गढ़ की महिलाओं ने भी इस फिल्‍म के खिलाफ़ ऐलान-ए-जंग कर दिया है। सरकार की ओर से फिल्म की रिलीज पर रोक नहीं लगाने पर इन महिलाओं ने भी जौहर (आग में कूदना) करने की धमकी दी है। चित्तौड़गढ़ में आयोजित सर्वसमाज बैठक में सदस्यों ने फिल्म की प्रस्तावित रिलीज के खिलाफ बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन करने का फैसला किया। इस बैठक में करीब 500 लोग शामिल हुए, जिसमें शहर के उच्च घरानों से ताल्लुक रखने वाली 100 महिलाएं शामिल हुईं।

पढ़ें इसे भी : अब बेटे तैमूर को लेकर ये कौन सी चिंता सताने लगी है पापा सैफ को

जौहर करने की दी धमकी
महिलाओं ने फिल्म की रिलीज पर रोक नहीं लगने पर जौहर तक करने की धमकी दी थी। राजपूत करणी सेना के प्रवक्ता वीरेंद्र सिंह ने आईएएनएस से बातचीत में कहा था कि 17 जनवरी को पूरे चित्तौड़गढ़ में राष्ट्रीय राजमार्गो, रेलवे ट्रैक को जाम कर दिया जाएगा। याद दिलाते चलें कि फिल्म को सेंसर बोर्ड से मंजूरी मिल चुकी है और यह पूरे भारत में 25 जनवरी को रिलीज होने जा रही है। राजस्थान सरकार ने हालांकि राज्य में इसे रिलीज नहीं करने का फैसला किया है।

मुसलमानों

हरियाणा में भी बैन होने की थी खबर
राजस्थान के बाद खबर सुनने को मिली थी कि इस फिल्‍म को गुजरात, मध्‍य प्रदेश, उत्‍तराखंड और अब हरियाणा में भी बैन कर दिया गया है। पिछले हफ्ते राज्य के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कैबिनेट मीटिंग के बाद यह जानकारी दी थी। उन्‍होंने बताया था कि कई राज्‍यों में फैल रहे आक्रोश को देखते हुए फिल्‍म को बैन करने का फैसला लिया गया है।

ये सितारे नजर आएंगे ऐसे
याद दिला दें कि फिल्‍म मेकर संजय लीला भंसाली की फिल्‍म ‘पद्मावत’ में दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर लीड रोल में नजर आएंगे। इस फिल्‍म में रणवीर सिंह के फैन्‍स को अलाउद्दीन खिलजी के रूप में उनका एक अलग ही अंदाज देखने को मिलेगा। इनके अलावा शाहिद कपूर भी एक डिफ्रेंट और जबरदस्‍त किरदार में नजर आने वाले हैं।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...