पहले के ज़माने में हीरोइनों को इतने मौके नहीं दिए जाते थे कि वो अभिनेताओं जितनी सैलरी पा सकें। मतलब पहले अभिनेताओं को ज्यादा पेमेंट की जाती थी। वो मेल डॉमिनेटिंग इंडस्ट्री थी तब लेकिन अब यहाँ सब बदल गया है। अब हीरोइनों को सैलरीअच्छी मिलती है और रोल्स भी। दिग्गज अभिनेत्री शर्मिला टैगोर का कहना है कि फिल्म उद्योग में आज की अभिनेत्रियों के लिए पहले से बेहतर अवसर हैं।


शर्मिला से पहले और आजकल की अभिनेत्रियों के बीच अंतर पूछे जाने पर उन्होंने कहा, “हमारे समय में अच्छी तरह रो पाने से ज्यादा कुछ करने को नहीं था, हमें खुद को असहाय दिखाना पड़ता था, इसलिए मुझे लगता है कि इन्हें (आज की नायिकाओं को) काम करने में ज्यादा मजा आ रहा होगा।” शर्मिला (72) ने बताया कि उनके दौर में नायिकाओं के जीवन में ज्यादा रोमांच नहीं था।

उन्होंने कहा, “नायिकाएं नकारात्मक भूमिकाएं नहीं निभाती थीं, इसलिए हेलन ही सारा लुत्फ उठाती थीं.. नायिकाओं के जीवन में ज्यादा रोमांच नहीं होता था। आज की नायिकाओं के पास पहले की तुलना में काफी बेहतर मौके हैं।”


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


उन्होंने कहा, “इसके अलावा, हम एक समय में तीन या चार फिल्मों में काम करते थे, इसलिए भी मुश्किलें आती थीं, क्योंकि आज आमिर खान अपना वजन बढ़ा, घटा सकते हैं, हम ऐसा नहीं कर सकते थे।”

मौनी रॉय की तो निकल पड़ी, अक्की के बाद मिला रणबीर का साथ

वर्ष 1959 में बॉलीवुड में करियर की शुरुआत करने वाली अभिनेत्री को मंगलवार सिरी फोर्ट ऑडिटोरियम में पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री द्वारा लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया।

पुरस्कार प्राप्त करने के बाद शर्मिला ने कहा, “इस अद्भुत सम्मान के लिए पीएचडी चैंबर को धन्यवाद। युवाओं के साथ यह पुरस्कार साझा करने में मुझे बेहद खुशी है।

ये भी देखें

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...