आज के युग में इंटरनेट के बिना दिनचर्या की कल्पना भी नहीं की जा सकती है। पर यही इंटरनेट सेहत के लिए हानिकारक भी है। जी हां, जरूरत से ज्यादा इंटरनेट का इस्तेमाल दिमाग भी खराब कर सकता है। एक अखबार ने एम्स के हवाले से यह खुलासा किया है।

एम्स के डॉक्टरों ने किया शोध

एम्स दिल्ली के चिकित्सकों, न्यूरोबायोलॉजिस्ट और एटियोलॉजिकली इल्युसिव डिसऑर्डर रिसर्च नेटवर्क (ईईडीआरएन) की रिपोर्ट में सामने आया है कि इंटरनेट के अधिक इस्तेमाल से व्यवहार में समस्या होती है। इसे न्यूरो कॉगनेटिव डिस्फंक्शन (दिमाग और व्यवहार में असंतुलन) का नाम दिया गया है।

दिल से न लगाएं मोबाइल, दिमाग कर देगा खराब


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


सात महीने पहले किया शोध

इससे जुड़ा शोध सात माह पहले किया गया था। शोध में इंटरनेट के इस्तेमाल के समय मानव मस्तिष्क की कोशिकाओं में होने वाले बदलाव का अध्ययन किया, जिसमें पाया गया कि अधिक समय से यही स्थिति बने रहने पर कोशिकाएं क्रिया-प्रतिक्रिया देना बंद कर देती हैं।

बच्चों-युवाओं के लिए खतरनाक

इसका मतलब यह है कि इंटरनेट का अधिक इस्तेमाल बच्चों और युवाओं के लिए खतरनाक है, क्योंकि उनका दिमाग विकसित अवस्था में होता है। एम्स के क्लीनिकल न्यूरोबायोलॉजिस्ट मुनीफ फायक ने बताया कि दिमाग का जानकारी एकत्र करने का अपना तरीका होता है।

एक्यूपंचर से अब पालतू जानवरों का भी किया जा रहा इलाज

जुनूनी हो जाता है इंसान

इंसान बार-बार इसका इस्तेमाल करता है तो दिमाग की क्षमता प्रभावित होने लगती है और इसका प्रतिकूल असर पड़ता है। इससे न्यूरोलॉजिकल समस्या के साथ ही याददाश्त में कमजोरी, चिड़चिड़ापन और जुनून जैसी शिकायतें सामने आती हैं।

ड्रग्स की होती है इसकी लत

इंटरनेट की लत ड्रग की तरह है, जो समय के साथ बढ़ती जा रही है।  सबसे बड़ी दिक्कत उन लोगों को है जिनका काम इंटरनेट से जुड़ा है और बाद में वे सोशल मीडिया पर भी सक्रिय होते हैं। ऐसे लोगों के लिए इंटरनेट का अधिक इस्तेमाल उनके लिए बीमारी का रास्ता बना देता है।

इतनी सारी दिक्कतें एक साथ

इसके अधिक इस्तेमाल से व्यक्ति फास्टफूड पर ज्यादा निर्भर हो जाता है। साथ ही उत्तेजित करने वाले पेय पदार्थों पर भी निर्भरता बढ़ जाती है और शराब व धूम्रपान अधिक करने लगता है। इससे आक्रामक व्यवहार, भूलने की बीमारी, सिर चकराना और नींद में गड़बड़ी हो सकती है।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...