भारतीय जूनियर हॉकी टीम ने बुधवार को सातवें सुल्तान जोहोर कप जूनियर पुरुष हॉकी टूर्नामेंट के लीग मैच में मेजर ध्यानचंद की यादें ताजा कर दीं। मलेशिया में हुए मैच में टीम इंडिया ने अमरीका को 22-0 से रौंदा।

24-1 से दी थी मात

इसके पहले मेजर ध्यानचंद की अगुवाई में भारतीय हॉकी टीम ने 1932 के लांस एंजेलिस ओलंपिक में अमरीका को 24-1 के विशाल अंतर से हराया था। भारत की तरफ से हरमनजीत सिंह ने पांच जबकि अभिषेक ने चार गोल दागे।

इन्होंने भी दागे गोल

इनके अलावा विशाल पाटिल और दिलप्रीत सिंह ने भी तीन-तीन गोल किए। मनिंदर सिंह ने दो गोल दागे। प्रताप लाकड़ा, एम रविचंदर, रोशन कुमार, शिलानंद लाकड़ा और विवेक प्रसाद ने भी गोल करने वालों में अपना नाम लिखवाया।

क्रिकेट की हार का मातम क्यों, जब हॉकी में पाकिस्तान को धो डाला

लगातार तीसरी जीत

यह भारत की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सबसे बड़ी जीत में से एक है। वर्तमान टूर्नामेंट में अमरीका सबसे कमजोर हॉकी टीम है। उसे भारत से पहले ऑस्ट्रेलिया ने 19-0 और इंग्लैंड ने 11-0 से हराया था। भारत की यह टूर्नामेंट में लगातार तीसरी जीत है।

भारत बन गया एशिया कप का चैंपियन, मलेशिया को दी मात

हॉकी के लिए शानदार माह

भारतीय हॉकी टीम के लिए यह महीना काफी शानदार साबित हुआ। सीनियर टीम एशिया कप में अजेय रही और मलेशिया को 2-1 से हराकर कप पर कब्जा जमाया था।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...