साउथ कोरिया: साउथ कोरिया के अस्पताल में आग लगने से 41 लोगों की मौत हो गई और दर्जनभर लोग घायल हो गए. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, आग लगने की घटना मिरयांग शहर के सेजोंग अस्पताल में हुई. आग सुबह 7.30 बजे के आसपास अस्पताल के आपात कक्ष में लगी. एक अधिकारी के हवाले से बताया कि दमकलकर्मियों को आग पर काबू पाने में एक घंटे 40 मिनट का समय लगा.

साउथ कोरिया

नर्सिग होम से 93 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है. दमकल प्रमुख चोई-मान-वू ने बताया कि आग लगने के कारण का अभी पता नहीं चल पाया है. लगभग एक दशक में साउथ कोरिया में आग लगने की यह सबसे भयावह घटना है और मृतकों की संख्या बढ़ने का अंदेशा है. कई घायलों की स्थिति नाजुक बताई जा रही है. दमकल प्रमुख चोई-मान-वू ने संवाददाताओं को बताया कि आग लगने के कारण का अभी पता नहीं चल पाया है.


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


सिद्घार्थ मल्होत्रा और मनोज बाजपेयी की ‘अय्यारी’ का दमदार अंदाज, ट्रेलर से हुआ आगाज़

रिपोर्ट में कहा गया कि अस्पताल के अधिकांश मरीज या तो सेरीब्रोवैस्कुलर या स्ट्रोक से ग्रसित थे. ज्यादातर मरीजों की मौत दम घुटने से हुई. दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून-जे-इन ने आपात बैठक बुलाई.

कहा जा रहा है कि साउथ कोरिया में एक दशक बाद इतनी गंभीर आग लगी है. जलने की बजाए ज्यादातर लोग जहरीली गैस के धुएं में दम घुटने की वजह से मरे हैं. स्थानीय मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार मरने वालो में एक डॉक्टर और दो नर्स शामिल हैं. ज्यादातर पीड़ीत बुजुर्ग बताए जा रहे हैं.

ये भी देखिए…

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...