प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत के ऐसे पहले प्रधानमंत्री होंगे जो इजराइल जाएँगे. नरेंद्र मोदी का इजराइल दौरा 4 जुलाई को होगा. उस दिन, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फ्लाइट इजराइल में लैंड करेगी तो कई अग्रीमेंट्स और कई ट्रीटी साइन किये जाएँगे.

सबके लिए वो आम दिन होगा पर 11 साल के इजरायली बच्चे मोश होल्टबर्ग के लिए वह दिन स्पेशल होगा. उसे खास बनायेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.

इवांका ट्रम्प को मिला पीएम मोदी से ऐसा आमंत्रण कि शुक्रिया कहे बिना रह न सकीं वो


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


मोश का भारत से रिश्ता पुराना है, हालाँकि वो काफी दुःख देने वाला है. ये उन दो लोगों में शामिल था, जो 26/11 के अटैक में जीवित बचे थे. लश्कर ए तयबा ने कोलाबा के नरीमन हाउस में अटैक किया था. उस हादसे में मोश के पैरेंट्स की मौत हो गयी थी. उसे इंडियन नैनी सांड्रा ने बचा लिया था.

मोश मोदी से 5 जुलाई को मिलेगा. हालाँकि अभी समय निर्धारित नहीं किया गया है. मोश के ग्रैंडपैरेंट्स चाहते हैं कि मोश को मुंबई में काम मिल जाए. खबरों की माने तो उम्मीद है कि प्रधानमंत्री मंरेंद्र मोदी उसके सपने को पूरा करने में उसकी मदद करेंगे.

वीडियो: जब मिसेज़ मोदी के लिए गार्ड ने खोल दिया दरवाज़ा!

जिस कमरे से मोश को बचाया गया था, उसे उस अटैक में मरने वालों के लिए समर्पित कर दिया गया. 2013 में इजरायली प्रेजिडेंट भारत आये थे, तब उन्होंने भी उस जगह का दौरा किया, वहां श्रद्धांजलि अर्पित की थी.

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...