जब ग्रह खराब चल रहे हों तो कुछ भी हो सकता है. बरसों पुराने गड़े मुर्दे भी उखाड़ने लगते हैं. लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी जैसे वरिष्ठ नेता भाजपा में पहले ही उपेक्षित चल रहे थे. अब तो सुप्रीम कोर्ट ने भी बाबरी मस्जिद मामले में उनकी परेशानी बढ़ा दी है.

बाबरी मस्जिद में नया मोड़

बाबरी विध्वंस मामला एक नया मोड़ लेता प्रतीत हो रहा है. इस मामले में भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती और पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह समेत कई वरिष्ठ विहिप नेताओं पर आपराधिक साजिश रचने का मुकदमा चलाया जा सकता है.

राम मंदिर को लेकर भाजपा के एक और मंत्री का बड़ा बयान, कहा- अयोध्या में नहीं तो क्या मलेशिया में बनेगा


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


बाबरी मस्जिद में टेक्निकल ग्राउंड

सुप्रीम कोर्ट ने इन नेताओं पर मुकदमा चलाने में देरी होने पर भी चिंता व्यक्त की है. इसके लिए कोर्ट ने अगली सुनवाई की तारीख 22 मार्च तय की है. शीर्ष अदालत का कहना है कि टेक्निकल ग्राउंड पर इन लोगों को राहत नहीं दी जा सकती है.

सीबीआई से कोर्ट ने पूछा है कि हाइकोर्ट ने जब आपराधिक साजिश रचने की धारा इन पर से हटाई थी तो पूरक आरोपपत्र क्यों नहीं दाखिल किया गया.

साथ ही कोर्ट का कहना है कि ऐसा क्यों न किया जाए कि मामले की सुनवाई दो अलग अदालतों में चलाने की बजाय एक ही जगह मुकदमा चलाया जाए. इसके लिए रायबरेली में चल रहे मुक़दमे को क्यों न लखनऊ ट्रांसफर कर यहाँ पहले से चल रहे मुक़दमे में जोड़ दिया जाए.

ब्रेकिंग न्यूज़! मोदी की दहाड़ से दहले दोनों युवराज, प्रेस कांफ्रेंस रद्द

बाबरी मस्जिद ढहाए जाने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह, लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और उमा भारती समेत कई विहिप नेताओं पर से आपराधिक साजिश रचने का मुकदमा हटा लिया गया था, जिसके बाद हाईकोर्ट के इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील की गयी थी.जिसकी सुनवाई अभी चल रही है. इस याचिका में 20 मई 2010 में इलाहाबाद कोर्ट के फैसले को रद्द करने की मांग की गयी है.

हाईकोर्ट ने विशेष अदालत के फैसले के आधार पर इन लोगों पर से आईपीसी की धारा 120 बी (आपराधिक साजिश) हटा दी थी. पिछले साल सितम्बर में सुप्रीमकोर्ट के सामने सीबीआईने कहा था कि उसकी प्रक्रिया किसी के प्रभाव से प्रभावित नहीं होती. साथ ही सीबीआई का कहना था कि भाजपा के वरिष्ठ नेताओं पर से आपराधिक साजिश का मुकदमा उसके कहने पर नहीं हटाया गया था.

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...