फलाहारी बाबा भी पुलिस के हत्थे चढ़ गया है। राजस्थान के अलवर जिले की अरावली पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया है। बिलासपुर (छतीसगढ़) की कानून की एक छात्रा के कथित यौन शोषण के मामले में कौशलेंद्र प्रपन्नाचार्य फलाहारी महाराज को अलवर के एक निजी अस्पताल से गिरफ्तार किया गया।

बाबा की जांच को मेडिकल बोर्ड

70 साल के फलाहारी बाबा को गिरफ्तार करने के बाद चिकित्सा जांच के लिए राजकीय राजीव गांधी चिकित्सालय ले जाया गया। यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार फलाहारी महाराज के स्वास्थ्य की जांच के लिए तीन सदस्यीय मेडिकल बोर्ड गठित किया गया है।

राजस्थान के अलवर में मिला एक और राम रहीम, फल खाकर करता था गंदे काम


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


फलाहारी बाबा के अनुयायी मां-बाप

बता दें कि बिलासपुर की 21 वर्षीय छात्रा दिल्ली में लॉ कर रही थी। इधर उसे तीन हजार रुपये मासिक पर इंटर्नशिप मिल गई। उसके माता-पिता कई वर्षों से फलाहारी महाराज के अनुयायी हैं। घर से उसे कहा गया कि वह अपनी पहले महीने का मानदेय आश्रम में दान कर दे।

रक्षाबंधन के दिन आश्रम गई थी

रक्षाबंधन के दिन छात्रा आश्रम गई थी। उसी दिन चंद्रग्रहण भी था। बाबा ने लड़की से रात को वहीं रुकने को कहा, जिसे उसने मान लिया। लड़की का आरोप है कि रात को बाबा ने उसे अपने कमरे में बुलाया और दुष्कर्म किया।

अंजाम भुगतने की धमकी भी दी

यही नहीं, बाबा ने उसे यह बात किसी से नहीं बताने की हिदायत देते हुए ऐसा करने पर भुगतने की धमकी दी। बिलासपुर अपने घर लौटी युवती ने माता-पिता से घटना का जिक्र किया तो बिलासपुर थाने में जीरो रिपोर्ट दर्ज कराई गई।

अस्पताल में भर्ती हो गया था बाबा

वहां से रिपोर्ट अलवर के अरावली थाने भेज दी गई। इसके बाद पुलिस ने पीड़िता और उसके परिजनों के बयान लिए। पीड़िता से मौका मुआयना की तस्दीक करवाई। वहीं, रिपोर्ट दर्ज होने के बाद फलाहारी महाराज अलवर के एक निजी अस्पताल में भर्ती हो गया था।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...