पीएम नरेन्द्र मोदी की तरह ट्विटर पर योगी आदित्यनाथ भी काफी सक्रिय देखे जा रहे हैं. लोग अपनी परेशानियां उनके ट्विटर अकाउंट पर लिखते हैं और वे उनका निस्तारण जल्द ही करते दिखाई पड़ रहे हैं.

सिर्फ योगी ही नहीं, अखिलेश की सरकार में भी रोमियो का ये हाल देखकर काँप उठेंगे आप

ट्विटर पर योगी आदित्यनाथ हैं काफी सक्रिय

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक छेड़छाड़ के मामले में अपराधियों के खिलाफ प्रॉपर एक्शन लेने का आदेश दिया है. पीड़ित परिवार के सदस्य ने न्याय की मांग करते हुए उन्हें ट्वीट किया था.


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


यह घटना कानपुर की है. जब यहाँ के कल्याणपुर क्षेत्र में होली के समय स्थानीय युवाओं ने एक घर में घुसकर महिला और उसकी बेटी के साथ छेड़खानी शुरू कर दी थी. इस महिला के पति ने जब इसका विरोध किया, तो अपराधियों ने उसे मारना शुरू कर दिया था.

घटना के बाद पति ने कल्याणपुर पुलिस स्टेशन से संपर्क किया. पुलिस ने आईपीसी के तहत हमले और दुरुपयोग के आरोपों के तहत मामला दर्ज कर लिया.  शिकायतकर्ता का आरोप है कि उनकी जांच में पुलिस कमजोर थी. इस वजह से उन्होंने डीजीपी और मुख्यमंत्री कार्यालय को न्याय और अपनी मदद के लिए ट्वीट किया.

मुख्यमंत्री को चाहिए नशामुक्त ड्राइवर, योग्यता पान पुड़िया से दूरी

डीजीपी कार्यालय के एक फोन पर कार्रवाई

जब लखनऊ के डीजीपी कार्यालय से फोन किया गया पुलिस तुरंत हरकत में आई. एसपी कानपुर पश्चिम सचींद्र पटेल का कहना है कि,’जैसे ही हमें घटना की जानकारी हुयी, मैंने तुरंत रिपोर्ट दर्ज करने के आदेश दिए. व्यक्तिगत रूप से पीड़ित परिवार के घर का मैंने दौरा भी किया था और चिकित्सा जांच भी करवाई थी.’

अधिकारी के अनुसार, पहले ये मामला दुरुपयोग और हमले के आरोप का दायर किया गया था. बाद में इसमें कुछ चार्ज और भी बढ़ाये गये हैं. पुलिस का ये भी कहना है कि तीन टीमें अपराधियों को पकड़ने के लिए भेजी गयी हैं और परिवार को भी सुरक्षा प्रदान की गयी है.

जींस-टीशर्ट नहीं पहन पाएंगे डॉक्टर और मास्टर, आगे जाने क्या-क्या बंद हो यूपी में

एक ट्वीट पर मदद होने से पीड़ित परिवार को तो राहत हुयी ही होगी. अपराधियों को लगा होगा कि सुधर जाओ, वरना पता नहीं अपना नंबर कब आ जाए.

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...