जींस-टीशर्ट पर पाबंदी! जी हैं, सही सुने हैं। यूपी में जबसे नई सरकार बनी है, रोज्जय कुछ न कुछ तो पाबंद कर रही है। अबकी बारी आई है जींस-टीशर्ट पर पाबंदी की। सरकारी मास्टरों (शिक्षकों) और डॉक्टरों के जींस-टीशर्ट पहनने पर पाबंदी लगा दी गई है। वैसे ई सब तो होना ही था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुदय संसद में कह चुके हैं कि यूपी में अभी बहुत कुछ बंद होना है। तो भइया मीर तकी मीर के शब्दों में हम इतना ही कह सकते हैं, इब्तिदा-ए-इश्क़ है रोता है क्या-आगे-आगे देखिये होता है क्या ।

मुख्य चिकित्सा अधीक्षक का निर्देश

डॉक्टरों के जींस-टीशर्ट पर पाबंदी का आदेश जारी किए हैं गौतबुद्धनगर जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक ने। साहब को पता नहीं का सूझा कि नोएडा में बने इस अस्पताल में जींस-टीशर्ट पहनने पर प्रतिबंध लगा दिया। लगता है अधीक्षक महोदय, पाबंदी के अपने सीएम साहब के फलसफे से प्रभावित हुई गए हैं।

योगी आदित्यनाथ ने जड़ा एक और चौका, सरकारी दफ्तर में नहीं चलेंगे पान-गुटखा भरे मुंह


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


जींस-टीशर्ट नहीं रहे शालीन ड्रेस!

अस्पताल को जारी निर्देश में कहा गया है कि ई पाबंदी चिकित्सा निदेशालय के निर्देश पर लगाई जा रही है। सभी को शालीन कपड़े पहनकर अस्पताल आना है। पुरुष पैंट-शर्ट और महिलाएं साड़ी या सूट पहनकर अस्पताल आएंगी। अब भइया, इस सरकारी आदेश से तो यही प्रतीत होत है कि जींस-टीशर्ट शालीन ड्रेस नहीं रह गए।

एंटी रोमियो स्क्वाड से लैस हो गया यूपी, रोमियोगीरी करने वालों की अब खैर नहीं

मास्साहब भी नहीं पहनेंगे टीशर्ट, साफ कराएंगे स्कूल

वहीं, यूपी सरकार ने स्कूलों के मास्टरों के भी जींस-टीशर्ट पहनने पर बैन लगा दिया है। और तो और एक बढ़िया फैसले में स्कूलों के आस-पास से पान-गुटखा की दुकानें हटाने को कहा है। इत्ता ही नहीं, स्कूलों में इधर-उधर पिचकारी मारी गईं पान और गुटखा की पीकों को साफ करने के लिए बस एक दिन का समय दिया है। इसके एक दिन पहले ही सरकारी दफ्तरों में पान-गुटखा पर प्रतिबंध लगाया जा चुका है। अवैध बूचड़खाने तो धड़ाधड़ा बंद किए ही जा रहे हैं, रोमियोगीरी पर भी नकेल कसी जा रही है।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...