भारत इन दिनों उपग्रह स्थापित करने में ऐतिहासिक सफलताएं हासिल कर रहा है. इसी महीने भारत अपने दो उपग्रह अंतरिक्ष में भेज चुका है. इसी क्रम में भारत ने फ्रेंच गुयाना के कोरू से एरियन स्पेस राकेट के ज़रिये आज यानी 29 जून को आधी रात के बाद जीसैट-17 का प्रक्षेपण किया है.

वीडियो: इसरो लाया कार्टोसैट-2, सेना के लिए और भी आसान होगी सर्जिकल स्ट्राइक

जीसैट-17 का प्रक्षेपण

जीसैट-17 का प्रक्षेपण

 

 

 

 

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने घोषणा की थी,’एरियन फाइव प्रक्षेपण यान भारतीय समय के हिसाब से आधी रात के बाद यानी दो बजकर 29 मिनट पर जीसैट-17 को प्रक्षेपित किया जाएगा.’

जीसैट-17 उपग्रह का भार 3477 किलोग्राम है. ये उपग्रह सामान्य सी बैड, विस्तारित सी बैंड और एस बैंड में बहुत सी संचार सेवायें मुहैया करवाएगा.

इसरो का काना है कि, ये उपग्रह मौसम संबंधी और उपग्रह आधारित सर्च ऑपरेशन और राहत कार्यों से जुड़े आंकड़े जुटाने में भी मदद करेगा. इससे पहले ये सेवायें इनसैट उपग्रह उपलब्ध करवाया करते थे.

इंटरनेट स्पीड का रोना दूर कर देगा भारत का यह भीमकाय सैटेलाइट

इससे पहले श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष केंद्र से जीएसएलवी एमके-3 और पीएसएलवी सी-38 उपग्रह इसी महीने प्रक्षेपित किये गये थे.इन दोनों उपग्रहों के बाद इसरो द्वारा एक महीने में ही प्रक्षेपित किया गया तीसरा उपग्रह है.

 

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...