डेरा सच्चा सौदा के मुखिया गुरमीत सिंह राम रहीम को सजा होने के बाद नए प्रमुख को लेकर चर्चाओं का दौर जारी है। पहले डेरे में दूसरा स्थान रखने वाली ब्रह्मचारी विपश्यना और बाबा की कथित मुहंबोली बेटी हनीप्रीत का नाम उछला था।

गुरमीत सिंह राम रहीम

डेरा मुखिया ही चुन सकता नया मुखिया

अब इस मामले में नया खुलासा किया है डेरा सच्चा सौदा की ट्रस्ट डीड ने। इस डीड के हिसाब से डेरे पर गुरमीत की पकड़ ढीली नहीं पड़ेगी। इसके मुताबिक नया डेरा प्रमुख चुनने का अधिकार डेरा प्रमुख को ही है।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


कोई महिला नहीं बन सकती डेरा प्रमुख

ट्रस्ट डीड में यह भी स्पष्ट है कि कोई महिला डेरा की सत्ता पर आसीन नहीं हो सकती। यानी गुरमीत सिंह राम रहीम की करीबी हनीप्रीत का दावा यहीं खारिज हो जाता है। इसके बाद नए डेरा प्रमुख के रूप में गुरमीत के बेटे जसमीत का नाम आगे है।

गुरमीत सिंह राम रहीम

गुरमीत के बेटे को मिल सकती गद्दी

ट्रस्ट डीड भी यही कहती है कि अगला डेरा प्रमुख गुरमीत सिंह राम रहीम का बेटा जसमीत ही बन सकता है। जसमीत सिंह पंजाब के पूर्व विधायक हरमंदर सिंह जस्सी का दामाद है।

बाबा के 3 खूनी मंत्र और कुर्बानी ब्रिगेड की प्लानिंग सुन कर काँप उठेंगे आप, नरसंहार की थी तैयारी

2004 में बनाया गया वेलफेयर ट्रस्ट

डेरा सच्चा सौदा सिरसा की ओर से 12 अगस्त 2004 को वेलफेयर ट्रस्ट बनाया गया था। इसमें डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को ट्रस्ट का संरक्षक घोषित किया गया था। इस ट्रस्ट के अनुसार, डेरा प्रमुख को सभी अधिकार दिए गए थे।

राम रहीम को गिए गए सारे अधिकार

इसमें कहा गया है कि गुरमीत सिंह राम रहीम संस्था को इच्छानुसार चलाएगा। उसको डेरे के अगले गद्दीनशीन का फैसला करने का हक भी दिया गया था। ट्रस्ट के अनुसार डेरे का अगला गद्दीनशीन डेरा प्रमुख के वंश का बालिग सदस्य ही बनेगा।

रेप के दो केसों की अलग-अलग सजा, पूरे 20 साल जेल में रहेगा बाबा

इन हालात में किसी और को मिलेगी गद्दी

यदि डेरा प्रमुख के वंश में कोई पुरुष सदस्य नहीं मिलता या वह स्वयं गद्दी लेने से मना कर देता है तो ट्रस्टी दो तिहाई बहुमत से किसी और को गद्दी सौंप सकते हैं। ट्रस्ट की कार्यकारी समिति में डेरा प्रमुख का बेटा जसमीत भी सदस्य है।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...