संयुक्त राष्ट्र में भारत की ओर से पाकिस्तान को प्रथम सचिव ईनम गंभीर ने करारा जवाब देते हुए उसे टेररिस्तान करार दिया तो चहुंओर उन्हीं की चर्चा होने लगी। ईनम ने पाक प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी के झूठ पर भारत की ओर से पलटवार किया।

मानवाधिकारों का उल्लंघन करता पाक

ईनम ने कहा कि पाकिस्तान आतंकियों का गढ़ है और दुनिया को मानवाधिकार पर पाकिस्तान के ज्ञान की जरूरत नहीं है। यह भी कहा कि पाकिस्तान अपनी ही जमीन पर मानवाधिकारों का उल्लंघन करता रहा है। यह देश आज पूरी तरह आतंक को पैदा कर रहा है।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


पीड़ित होने का दिखावा करता पाकिस्तान

यह असाधारण है कि एक देश जो ओसामा बिन लादेन और मुल्ला उमर को पनाह देता है, पीड़ित होने का दिखावा कर रहा है। ईनम ये बातें कह रही थीं तो पाकिस्‍तानी अफसर एक-दूसरे को देखने लगे। उनके चेहरे से साफ पता चल रहा था कि वे कितने हैरान हैं।

ईनम गंभीर ने उड़ाईं नवाज की धज्जियां

और ईनम ने ऐसा पहली बार किया है, ऐसा भी नहीं है। पिछले साल 23 सितंबर को ईनम ने नवाज शरीफ और पाकिस्‍तान की संयुक्त राष्ट्र में धज्जियां उड़ा दी थीं। अब हर किसी के मन में यह सवाल उठ रहा होगा कि आखिर ईनम हैं कौन। आइए हम आपको बताते हैं।

भारत ने संयुक्त राष्ट्र में दिया करारा जवाब, टेररिस्तान है पाकिस्तान

संयुक्त राष्ट्र में परमानेंट मिशन की सचिव

ईनम गंभीर भारत की युवा डिप्लोमैट और संयुक्त राष्ट्र संघ में भारत के परमानेंट मिशन की प्रथम सचिव हैं। ईनम दिल्ली की रहने वाली हैं और यूनिवर्सिटी ऑफ जेनेवा से अपनी पढ़ाई पूरी की है। ईनम 2005 में भारतीय विदेश सेवा के लिए चुनी गईं।

अपनी बात रखने में ईनम का कोई सानी नहीं

वह 2008 में अर्जें‍टीना में भारतीय दूतावास की द्वितीय सचिव बनीं। वह हिंदी और अंग्रेजी तो अच्‍छे से बोलती ही हैं, स्पैनिश भाषा की भी अच्छी समझ है। ईनम का सोशल मीडिया अकाउंट देखने से पता चलता है कि अपनी बात रखने में उनका कोई सानी नहीं है।

ब्रिक्स में चीन के नहले पर मोदी का इक्का, 4 ताकतों से पाकिस्तान भी चित

नवाज शरीफ को भी दिया था मुंहतोड़ जवाब

ईनम को भारत-पाकिस्तान रिश्ते पर भी अच्छी समझ है। इसका एक बड़ा कारण यह भी है कि वह विदेश मंत्रालय में पाकिस्तान डेस्क पर काम कर चुकी हैं। पिछले साल 23 सितंबर को ईनम ने संयुक्त राष्ट्र में नवाज शरीफ के भाषण के कुछ घंटों बाद ही अपनी बात रखी थी।

आतंकवाद को बढ़ावा ने पुरानी पाक नीति

तब नवाज शरीफ की झूठी दलीलों को उन्होंने अपने तर्कों से मुंहतोड़ जवाब दिया था। ईनम ने अपने भाषण में कहा था कि आतंकवाद को बढ़ावा देना पाकिस्तान की पुरानी नीति रही है, जिसका परिणाम पाकिस्तान के आस-पास के इलाकों में देखने को मिल रहा है।

पाकिस्तान को बताया था पाखंडी देश

उन्होंने तब भी कहा था कि यह कितनी अजीब बात है कि जो देश खुद आतंकवाद को बढ़ावा दे रहा है, वह मानवाधिकारों की बात करता है। ईनम ने 11 सितंबर को हुए अमरीकी हमले का भी जिक्र किया और पाकिस्तान को पाखंडी बताया था।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...