जापान में कम उम्र की लड़कियों को ऑब्जेक्टिफाई करना आम बात हो गई है. पान में तंग-अंधेरी जगहों पर 6 साल तक की छोटी बच्ची एडल्ट लड़कियों की तरह परफॉर्म करती हैं और उन्हें देखने के लिए 40 साल तक के मर्द पहुंचते हैं. टोक्यों की एक तंग और अंधेरी जगह पर मध्यम आयुवर्ग के पुरुष स्टेज पर एक लड़की के परफॉर्मेंस पर वाहवाही कर रहे हैं. स्टेज पर एक 6 साल की लड़की है.

एडल्ट लड़कियों

इस लड़की का मेकअप किया गया है और उसके बालों में रिबन लगाए गए हैं. उसे किसी व्यस्क लड़की की तरह ही तैयार किया गया है. जापान में इस तरह की परफॉर्मेंस करने वाली कम उम्र की लड़कियों को आइडल सिंगर कहा जाता है, जो जापान में काफी आम है.


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


मानवाधिकार से जुड़े समूहों ने शिकायत की है कि छोटी लड़कियों को इस तरह से पेश करने की इजाजत देना कहीं न कहीं उन्हें खतरे में डाल रहा है. साल 2015 में जापान में चाइल्ड पोर्नोग्राफी को अपराध माना गया. फिर भी कई अथॉरिटी इस मुद्दे पर देश को उन्नत देशों की श्रेणी में खड़ा करने के लिए संघर्ष कर रही है.

जापानियों ने दिखाया मतदान का जज्बा, आबे को फिर मिला मौका

इस आइडल शो को देखने वाले एक दर्शक 40 साल के सोईचिरो सेकी ने कहा कि वह इस युवा लड़कियों को स्टेज पर हफ्ते में 2 बार देखता है. उसने जोर देकर कहा कि वह इन कलाकारों को प्रत्साहित करने के लिए जाता है और उसे इसमें कोई शर्म नहीं है.

लेकिन इसने ये भी स्वीकार किया कि अन्य दर्शक युवा परफॉर्मर को ऑब्जेक्टिफाई करते हैं. जापानी आइडल में से एक ऐ की मां मामी यामाजाकी बताती हैं कि उनकी बेटी खुद ही आइडल सिंगर बनना चाहती थी. मामी के कहती हैं, ‘टीवी पर बच्चे कार्यक्रमों और विज्ञापनों में अभिनय करते हैं. मैग्जीन में बच्चें कपड़ों की मॉडलिंग करते हैं. ऐ का काम भी इन बच्चों से अलग नहीं है.’ हालांकि इन आइडल के शो देखने वालों में अधिकतर वयस्क पुरुष ही शामिल होते हैं. अगर अधिकारिक आंकड़ों की बात करें तो पिछले दशक में चाइल्ड पोर्नोग्राफी में बच्चों की संख्या में पांच गुना बढ़ोतरी हुई है.

ये भी देखिए…

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...