केरल में एक धार्मिक शोभायात्रा का इतना महत्व है कि इसके लिए हवाई जहाजों की उड़ान भी रोक दी जाती है। केरल की राजधानी तिरुवतनंपुरम का अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा शायद इकलौता ऐसा एयरपोर्ट है, जो शोभायात्रा निकालने के लिए रनवे बंद करता है।

पदमनाभस्वामी की यात्रा

सैकड़ों साल पुराने सुप्रसिद्ध पदमनाभस्वामी मंदिर के पैंकुनी और अल्पास्सी समारोह के दसवें और अंतिम दिन मूर्ति का स्नान समारोह आरात्तु की शोभायात्रा निकाली जाती है। यह स्थानीय अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के रनवे से होकर गुजरती है।

एयरपोर्ट पर स्वागत का वीडियो देखिये, दिल जीतने वाली बेटियों को पहचानने लगे हैं लोग


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


पांच घंटे उड़ान नहीं

इस दौरान तिरुवतनंपुरम एयरपोर्ट पर पांच घंटे के लिए विमानों का परिचालन रोक दिया जाता है। हवाई अड्डा की तरफ से यह शोभायात्रा निकाले जाने से एक सप्ताह पहले नोटम (एयरमेन को नोटिस) जारी किया जाता है।

सुरक्षा करते हैं जवान

हवाई अड्डे से होकर गुजरने वाली पास के षणगुमुगम बीच में मूर्ति के अनुष्ठानवादी स्नान के लिए जब यात्रा रनवे से गुजरती है तो केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के जवान इसके दोनो तरफ खड़े होकर इसकी सुरक्षा करते हैं।

जोश में आदित्य ने खोए थे होश, एयरलाइन स्टाफ से बदतमीजी पर सरेआम मांगी माफी

बदला जाता है समय

इस पवित्र स्नान के बाद इसी रास्ते रात में यात्रा वापस मंदिर जाती है। इस दौरान लोग जलता हुआ दीवेत्ती (पारंपरिक लैंप) लेकर इस शोभायात्रा को घेरे रहते हैं। इस कारण विमानों के परिचालन का समय बदल दिया जाता है।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...