गुजरात में पहले चरण का मतदान खत्म होने के बाद घर जाने की जल्दी में चुनाव अफसर एक ईवीएम जीप में ही भूल गए थे। इसका खुलासा अब हुआ है। मामला गुजरात चुनाव के दौरान नर्मदा जिले के डेडियापाडा विधानसभा क्षेत्र का है।

ड्राइवर लेकर आया वोटिंग मशीन

जीप के ड्राइवर और डेडियापाडा के कुछ स्थानीय नेताओं ने तीन अलग-अलग थैले में पैक ईवीएम को देखा तो उसे नर्मदा जिला मुख्यालय राजपीपला ले गए। इस पर डीएम और जिला निर्वाचन अफसर आरएस निनामा ने दावा किया कि ईवीएम ‘‘अतिरिक्त’’ थी।

पहले ही टेस्ट में ईवीएम मशीनों ने ली चोक, अब क्या करेगा चुनाव आयोग


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


गुजरात चुनाव में इस्तेमाल नहीं

उन्होंने कहा कि इस ईवीएम का इस्तेमाल डेडियापेडा (एसटी) विधानसभा क्षेत्र के चुनाव में नहीं हुआ था। निनामा के मुताबिक ईवीएम उन छह अतिरिक्त इकाइयों में शामिल थी, जिन्हें शनिवार को डेडियापाडा तालुका के कंजल गांव में भेजा गया था।

पांच गांवों के लिए भेजी थीं ईवीएम

निनामा ने कहा कि कंजल और आसपास के पांच गांवों में इस्तेमाल छह ईवीएम के साथ हमने छह अतिरिक्त ईवीएम भेजी थीं ताकि अगर गुजरात चुनाव में कोई तकनीकी समस्या आए तो उससे निपटा जा सके।

डीएम ने भी मान ली यह बात, ईवीएम के सब वोट थे भाजपा के साथ

अफसरों को कारण बताओ नोटिस

उन्होंने कहा कि अतिरिक्त ईवीएम को लेकर इस तरह की लापरवाही दिखाने के लिए हमने संबंधित चुनाव अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...