नॉर्थ कोरिया के खिलाफ साम, दाम, दंड, भेद सब फेल होने पर अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ऐसा रास्ता निकाला है, जिससे सांप भी मर जाए और लाठी भी न टूटे। ट्रंप की रणनीति कारगर रही तो नॉर्थ कोरिया के तानाशाह की गद्दी ही उसके नीचे से सरक जाएगी।

फूट डालो और राज करो

जी हां, ट्रंप अब वही नीति अपनाने जा रहे हैं, जो अंग्रेजों ने अपने शासनकाल में भारत के खिलाफ अपनाई थी। यानी फूट डालो और राज करो। इस राह पर चलते हुए अमरीका ने नॉर्थ कोरिया की जनता को उसी के सुप्रीम लीडर के खिलाफ भड़काना शुरू कर दिया है।

यह है उन का सबसे बड़ा डर

पहले अमरीका ने नॉर्थ कोरिया को धमकी तक दी, पर मार्शल किम जोंग उन तनिक भी नहीं डरा। इस पर अमरीका ने उन के डर को ही हथियार बना लिया है। उन को सबसे ज्यादा डर लगता है गद्दारों से। इसीलिए जरा सा भी संदेह होने पर वह गद्दारों को खत्म करवा देता है।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


किम जोंग उन को बहन में दिखा प्रशासक, दे दिया अहम पद

अपने लोग करेंगे उन को खत्म

यानी की जो उन दुनिया भर की ताकतों से नहीं डरा। बड़े-बड़े हथियार जिसे डिगा नहीं पाए, उसे अब उसके लोग ही नेस्तनाबूद करेंगे। उन का असली डर उसी की नाक के नीचे पल रहा है।

भुखमरी की कगार पर लोग

संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट के मुताबिक नॉर्थ कोरिया की कुल ढ़ाई करोड़ की आबादी में करीब 45 लाख लोग ऐसे हैं जो भुखमरी की कगार पर हैं। यह है किम जोंग उन की हथियारों की सनक की वजह से है, जिसने उसके अपने ही लोगों को भूख से तड़पने के लिए मजबूर कर दिया है।

बौखलाए उत्तर कोरिया की गीदड़ भभकी, कभी भी छिड़ सकता परमाणु युद्ध

तानाशाह के खिलाफ भड़का रहे

अमरीका ने अब इन्हीं लोगों को विद्रोही नेताओं के जरिए तानाशाह के खिलाफ भड़काना शुरू कर दिया है। नॉर्थ कोरिया की विद्रोही नेता जिहून पार्क के मुताबिक जनता ने जिस परिवार को पिछले 60 सालों में अपनी जान से ज़्यादा चाहा उसी ने उसे मरने के लिए छोड़ दिया।

विद्रोही नेता भी देंगे ट्रंप का साथ

पार्क का कहना है कि मौजूदा हालात में दोनों तरह से जनता के पैर कब्र में ही लटके हैं। अगर युद्ध होता है तो वे उसमें मारे जाएंगे। लड़ाई नहीं भी हुई तो किम जोंग उन के हथियारों की सनक की वजह से भूखे मारे जाएंगे।

उत्तर कोरिया का तानाशाह अवैध कमाई से है मालामाल

बिना जंग के हो जाएगा तख्तापलट

एेसे में इन लोगों के दिलों में सरकार के खिलाफ आग सुलगने लगी है। इसी आग को विद्रोही नेता अमरीका जैसे देशों की शह पर भड़काने में लगे हुए हैं। एेसे में यह अजूबा नहीं होगा कि अमरीका बिना जंग के ही नॉर्थ कोरिया की सरकार का तख्ता पलट करवा ले जाए।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...