दक्षिण भारत के सुपरस्टार रजनीकांत ने नई राजनीतिक पार्टी बनाने की घोषणा करने के साथ ही अपने लिए लक्ष्मण रेखा भी खींच ली है। उन्होंने घोषणा की है कि अगर लोगों की उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे तो तीन साल में ही संन्यास ले लेंगे।

31 दिसंबर को राजनीति पर खुलासा करने की घोषणा

रजनीकांत ने पहले ही घोषणा की थी कि 31 दिसंबर 2017 को राजनीति में आने के बारे में स्थिति स्पष्ट करेंगे। साल के आखिरी दिन उन्होंने नई पार्टी बनाने की घोषणा की और कहा कि उनकी पार्टी तमिलनाडु के आगामी विधानसभा चुनावों में सभी सीटों पर उम्मीदवार खड़े करेगी।

प्रशंसकों से मुलाकात के बाद राजनीति में आने का ऐलान

अपने प्रशंसकों से मुलाकात के बाद रजनीकांत ने श्री राघवेंद्र कल्याण मंडपम में कहा कि मेरा राजनीति में आना तय है। मैं अब आ रहा हूं। यह आज की सबसे बड़ी जरूरत है।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


फिल्म रिलीज से पहले रजनीकांत और अक्षय कुमार का ये वीडियो आपको कर देगा हक्का-बक्का

अच्छा करो, अच्छा बोलो और केवल अच्छा होगा

उन्होंने आगे कहा कि उनकी पार्टी का मार्गदर्शक नारा होगा, अच्छा करो, अच्छा बोलो और केवल अच्छा होगा। राजनीति की दशा काफी खराब हो गई है। सारे राज्य हमारा मजाक बना रहे हैं। अगर मैं राजनीति में नहीं आता हूं तो यह लोगों के साथ धोखा होगा।

कमल हसन का पहले ही मिल चुका है साथ

रजनीकांत ने कहा कि मेरी पार्टी के तीन मंत्र होंगे, सच्चाई, मेहनत और विकास। रजनीकांत को इसके साथ ही कमल हसन का भी साथ मिल गया है। उन्होंने कहा था कि अगर रजनीकांत पॉलिटिक्स में आते हैं तो वह उनके साथ मिलकर काम करेंगे।

रजनीकांत के दामाद ने किया चौंकाने वाला खुलासा, रियल लाइफ में ऐसे हैं थलाइवा

राजनीति के नाम पर नेता लूट रहे पैसा

रजनीकांत ने आगे कहा कि आज पॉलिटिक्स के नाम पर नेता हमसे हमारा पैसा लूट रहे हैं और अब इसको जड़ से बदलने की जरूरत है। दक्षिण भारत के जानेमाने फिल्म अभिनेता ने कहा, ‘जहां भी सत्ता का दुरुपयोग होगा, मैं उसके खिलाफ खड़ा रहूंगा।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...