पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के बाद जहाँ एक ओर कांग्रेस भाजपा पर हमलावर है तो वही अब बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुप्पी पर निशाना साधा है. शॉटगन ने सिलसिलेवार ट्वीट करते हुए पीएम मोदी पर मामले में कुछ न बोलने पर सवाल खड़ा किया है. सिन्हा ने कहा, देश के शीर्ष पदों पर बैठे जिम्मेदार लोगों को मामले में सामने आकर बोलना चाहिए और स्पष्टीकरण देना चाहिए. उन्होंने कहा, ‘पूरी दुनिया में भारत एक मात्र ऐसा देश होगा, जहां शीर्ष पर बैठे जिम्मेदार लोग जरूरी मुद्दों पर कुछ नहीं बोलते और न ही स्पष्टीकरण देते हैं, जबकि देश के लोगों को स्पष्टीकरण जानने का पूरा हक है. लगता है उन लोगों के लिए देश की जनता कोई महत्व नहीं रखती. जबकि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने भी कठिन इंटरव्यू का सामना किया, लेकिन भारत में केवल सरकारी दरबारियों के लिए इंटरव्यू होता है.’

शत्रुघ्न सिन्हा ने पीएनबी को 11400 करोड़ रुपए का चूना लगाकर फरार होने वाले अरबपति नीरव मोदी को छोटे मियां और पीएम मोदी को बड़े मियां करार दिया है. सिन्हा ने कहा, ‘राष्ट्रीय बैंक में इतना बड़ा घोटाला अनूठा है. ये सरकार के शीर्ष लोगों के गैरजिम्मेदाराना रवैये का नतीजा है. ‘बड़े मियां तो बड़े मियां, छोटे मियां सुभान अल्लाह.’ इस मामले में न तो चौकीदार-ए-वतन ने और न ही विदेश मंत्रालय ने कोई जिम्मेदारी ली और न ही स्पष्टीकरण दिया है.’ उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा, ‘चौकीदार-ए-वतन ने कहा था, ‘आपने कांग्रेस को 60 साल दिए, मुझे 60 महीने दीजिए.’ उस वक्त किसी ने भी उनकी बात का मतलब नहीं समझा, लेकिन अब लोग इसका मतलब सही तरीके से समझ गए हैं. बल्ले-बल्ले! लॉन्ग लिव पीएनबी, जय हिंद!’

ध्यान देने वाली बात है कि पंजाब नेशनल बैंक को 11400 करोड़ रुपए का चूना लगाने के बाद नीरव मोदी और मेहुल चौकसी फरार हो गए हैं. इस वक्त वे कहां हैं, इस बारे में विदेश मंत्रालय के पास कोई भी पुख्ता जानकारी नहीं है. फिलहाल, नीरव मोदी और चौकसी के पासपोर्ट को 4 हफ्तों के लिए सस्पेंड कर दिया गया है. इसके अलावा पीएनबी की मुंबई वाली जिस ब्रांच से नीरव मोदी ने लेन-देन किया था, उसे भी सील कर दिया गया है.

ये भी देखें:

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...