गुजरात विधानसभा चुनाव प्रचार में एक-दूसरे पर शब्द बाण छोड़ने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह बुधवार को आमने-सामने आए तो नजारा कुछ और ही बना। संसद पर आतंकी हमले की 16 वीं बरसी पर सभी राजनीति भूलकर मिले।

दोनों पर टिकी थीं सभी की नजरें

प्रचार खत्म होने के बाद सबकी नजरें इन्हीं दोनों नेताओं पर लगी थी क्योंकि तीन दिन पहले ही मोदी और मनमोहन के बीच पाकिस्तान से जुड़े होने के आरोपों पर शब्द वार हुआ था। हालांकि, दोनों नेताओं ने राजनीति से अलग हटकर शहादत को सम्मान दिया।

एकजुट होकर दी एकता की मिसाल

इस दौरान सरकार और विपक्ष के नेताओं ने आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होकर एकता की मिसाल दी। राजनीति से हटकर सभी नेता अलग अंदाज में नजर आए और शहीदों को सलाम किया।

मोदी ने साबरमती नदी से धरोई बांध तक सी-प्लेन में किया सफर

शहादत को सलाम करने जुटे दिग्गज

इस दौरान गृहमंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, सोनिया गांधी, भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी समेत सत्ता और विपक्ष के कई बड़े नेता मौजूद थे।

अनुपम खेर ने जारी किया फिल्म का लुक, ट्रॉल हो गए मनमोहन सिंह

राहुल से मिले रविशंकर और सुषमा

कांग्रेस अध्यक्ष चुने जाने के बाद राहुल गांधी भी पहली बार दिल्ली में मौजूद रहे। कार्यक्रम में पहुंचे राहुल से विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और सूचना और प्रसारण मंत्री रविशंकर प्रसाद मिलते और बातें करते नजर आए।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...