भगोड़ा विजय माल्या ने जब भारत छोड़ा तो उस पर देश में खूब कोहराम मचा. लेकिन आपको जानकार आश्चर्य होगा कि भारत छोड़ने वाला वह अकेला भारतीय नहीं है. बल्कि 2017 में 7000 सुपर रिच भारतीय ऐसे रहे जिन्होंने देश छोड़ा है. बड़ी बात ये कि अमीरों के देश छोड़ने के मामले में भारत, चीन के बाद दूसरे नंबर पर है. ख़ास बात ये है कि 2017 में 16 प्रतिशत अधिक कमाई करने वाले 7,000 सुपर रिच भारत छोड़कर वि‍देश में रहने लगे हैं. न्यू वर्ल्ड वेल्थ की रिपोर्ट के अनुसार, 2017 में 7,000 अमीर भारतीयों ने खुद को विदेश में शिफ्ट किया, जबकि‍ यह आंकड़ा 2016 में 6,000 और 2015 में 4,000 था.

7000 सुपर रिच भारतीय

फिलहाल देश छोड़कर बाहर बसने और कराेड़पति‍ बनने वालों की सूची में सबसे ऊपर चीन है. विश्व स्तर पर चीन के 10,000 से ज्यादा सुपर रिच ऐसे हैं, जि‍न्‍होंने 2017 में अपने देश को अलविदा कहते हुए विदेश में खुद को स्‍थानांतरि‍त कर लिया. दूसरा नंबर 7000 की संख्या के साथ भारत का है. इसके बाद इस सूची में तुर्की है जिसके 6,000 सुपर रिच लोगों ने देश को बॉय-बॉय कहा. इसके बाद इस सूची में यूनाइटेड किंगडम के 4,000, फ्रांस के 4,000 और रूसी संघ के 3,000 लोगों का नंबर है.


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


भारतीयों की पहली पसंद

माइग्रेशन ट्रेंड के अनुसार ज्‍यादातर भारतीय अमेरि‍का, यूएई, कनाडा, ऑस्‍ट्रेलि‍या और न्‍यूजीलैंड जाना पसंद कर रहे हैं. जबकि चीन के लोगों की तादाद अमेरि‍का, कनाडा और ऑस्‍ट्रेलि‍या में ज़्यादा है.

सुधार के चलते घट सकती है संख्‍या

हालांकि रि‍पोर्ट में ये भी कहा गया है कि‍ भारत और चीन में रहने के मानकों में लगातार सुधार जारी है. ऐसे में उम्‍मीद की जा सकती है कि‍ आने वाले समय में भारत और चीन के अमीर विदेशों की ओर पलायन नहीं करेंगे.

पहली पसंद ऑस्ट्रेलिया

फिलहाल ऑस्ट्रेलिया को 10,000 अमीरों ने अपना ठिकाना बनाया है. ऐसे में 2017 में सबसे ज्‍यादा लोगों की पसंद ऑस्‍ट्रेलि‍या रहा. यही वजह है कि इनके दम पर आस्ट्रेलि‍या ने लगातार तीसरे साल अमेरि‍का को पीछे छोड़ा है.

ये भी देखें:

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...