नई दिल्ली: भारत के जाने-माने टाइकून मलविंदर मोहन सिंह और उनके भाई शिविंदर मोहन सिंह ने गुरुवार (8 फरवरी) को फोर्टिस हेल्थकेयर कंपनी के निदेशक मंडल से इस्तीफा दे दिया था, जिसके बाद से माना जा रहा है कि कंपनी की मुश्किलें बढ़ सकती है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में देर रात की गई फाइलिंग के दौरान इसकी घोषणा की गई। दोनों भाइयों ने संयुक्त इस्तीफे में लिखा, ‘हमें विश्वास है कि ये बेहतर प्रशासन के हित में होगा। हम संस्था को किसी भी बोझ से मुक्त करना चाहते हैं जो संस्थापकों से जुड़ी हो।’

फोर्टिस हेल्थकेयर

दिल्ली से इजरायल जा सकेंगी उड़ानें, मिली हवाई-मार्ग इस्तेमाल करने की इजाज़त


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


दोनों भाइयों का इस्तीफा ऐसे समय में आया है जब दिल्ली हाई कोर्ट ने जापानी कंपनी दाईची से 3,500 करोड़ के मामले में अंतरराष्ट्रीय कानूनी लड़ाई को बरकरार रखा है। दोनों भाइयों ने कहा है कि उनके इस्तीफे से कानूनी लड़ाई में कंपनी को फायदा मिलेगा। दोनों भाई दवा बनाने वाली कंपनी रैबैक्सी के भी संस्थापक थेष उन्होंने अपना हिस्सा जापानी दवा बनाने वाली कंपनी को 2.4 बिलियन डॉलर में बेच दिया था।

ये भी देखिए…

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...