इन दिनों लगातार सुर्खियों में रहने वाला बिटक्वॉइन निवेशकों को बड़ा मुनाफा भी देता दिख रहा है। इस चर्चित करेंसी ने दुनिया को पहला अरबपति भी दे दिया है। खास बात यह है कि बिटक्वॉइन के जरिए अरबपति बनने वाले विंकेलवोस बंधु जुड़वा भाई हैं।

इन जुड़वा भाइयों का फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग से भी गहरा नाता है। टेलर और कैमरून विंकेलवोस ने 2013 में बिटक्वॉइन का 1 फीसदी हिस्सा खरीदा था। उससे आज दोनों अरबपति बन गए हैं। विंकेलवोस ने 4 साल पहले 91,666 बिटक्वॉइन खरीदे थे।

बिटक्वॉइन ने पार किया एक और मील का पत्थर, बाजार मूल्य 14 हजार डॉलर के पार


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


2013 में एक बिटक्वॉइन की कीमत करीब 120 डॉलर थी, जो अब बढ़कर करीब 17,000 डॉलर यानी करीब 10.96 लाख रुपये है। पिछले एक साल में ही इसकी कीमत में 2,100 प्रतिशत से भी ज्यादा का उछाल आया है।

इस सप्ताह ही बिटक्वॉइन की कीमत में 50 प्रतिशत से ज्यादा की वृद्धि हुई है। बता दें कि विंकेलवोस भाई 2009 में चर्चा में आए जब उन्होंने फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग पर सोशल मीडिया बनाने का उनका आइडिया चुराने का आरोप लगाया और केस कर दिया था।

बिटक्वॉइन अब तक के उच्चतम स्तर पर, कीमत 10 हजार डॉलर के पार

विंकेलवोस भाइयों का दावा था कि हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ाई के दौरान उन्होंने एक सोशल नेटवर्क (कनेक्ट यू, पहले हार्वर्ड कनेक्शन नाम था) की योजना बनाई थी। इसमें भारतीय मूल के दिव्य नारायण सह संस्थापक थे।

इस सोशल नेटवर्क को तैयार करने के लिए उन्होंने जुकरबर्ग का सहयोग लिया। हालांकि इसके कुछ ही महीनों के अंदर उन्होंने अपना सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक की स्थापना कर दी।

मार्क जुकरबर्ग की इस हरकत से नाराज विंकेलवोस बंधुओं ने 2011 में 100 मिलियन डॉलर मुआवजे की मांग की। उन्हें यह मुआवजा नहीं मिला, लेकिन ऐसी खबरें आईं कि जुकरबर्ग ने पर्दे के पीछे इन भाइयों को 65 मिलियन डॉलर देकर मामले को शांत कराया।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...