कौन सी बात कब कैसे किसके मन में घर कर जाए ये कहना मुश्किल है. लेकिन देवास के वरुण अग्रवाल को पीएम नरेन्द्र मोदी के मन की बात भा गई और उनसे प्रेरणा लेकर उन्होंने 10 करोड़ का डेयरी फॉर्म लगा दिया. उनकी इस डेरी में कई तरह की 80 गायें हैं. शहर से 15 किलोमीटर दूर मक्सी रोड पर बने इस डेयरी फॉर्म की शुरुआत उन्होंने 10 गायों से की, जो बाद में 80 तक पहुँच गई. इनमें गिर और डेन्मार्क मूल की हॉस्टन फ्रीजियन गाय भी शामिल हैं. अब ये इंटरप्रेन्योर अब 80 गायों के साथ अपना डेरी फॉर्म चला रहा है. फॉर्म में गायों के लिए ऑटोमेटिक मसाज के साथ-साथ शॉवर सिस्टम भी लगाया गया है. और तो और फॉर्म में चौबीसों घंटे भजन गूंजते हैं.

बिल गेट्स को भाया गाय का बिजनेस, बना रहे हैं ‘सुपर गाय’

10 करोड़ का डेयरी फॉर्म


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


इतना ही नहीं गायों को खाना देने से लेकर दूध निकालने तक के प्रोसेस में इंसानों को हाथ लगाने की ज़रूरत नहीं पड़ती. बल्कि ये सारा काम मशीनों से किया जाता है. डेयरी फार्म में दूध निकालने के लिए भी मशीनें हैं. गायों की मसाज के लिए जर्मनी से इंपोर्ट कराए गए ड्रेसर लगे हैं और नहलाने के लिए शॉवर भी लगे हैं.

गायों के बैठने के लिए इसमें नई तरह की मैटिंग लगी हुई है. ये सभी मशीनें जर्मनी से आयात की गई हैं. डेयरी फार्मिंग के लिए इसके मालिक वरुण अग्रवाल ने स्विट्जरलैंड जाकर 10 दिनों की ट्रेनिंग ली है. डेयरी में गायों के गोबर की क्लीनिंग भी ट्रैक्टर से ही की जाती है.

सुनकर आपको हैरानी होगी, फिर भी ये सच है कि यहाँ गायों को खाना भी ट्रेक्टर से परोसा जाता है. गायों का यह खाना टीएमआर मशीन में तैयार किया जाता है. इसी तरह गायों की देखभाल के लिए चौबीसों घंटे वेटरनरी डॉक्टर रखा गया है जो दिन में दो बार गायों का टेंपरेचर और अन्य टेस्ट करता है. चार मिनट में आठ गायों का दूध एक साथ निकलता है.

ये भी देखें:

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...