इन दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ओमान की दो दिवसीय यात्रा पर हैं. वहां पीएम मोदी ओमान के सुल्तान कबूस बिन साद के साथ द्विपक्षीय वार्ता भी करेंगे. प्रधानमंत्री की चार देशों की यात्रा का यह अंतिम पड़ाव है. द्विपक्षीय वार्ता में सुल्तान कबूस से कई अहम मुद्दों पर चर्चा होने की संभावना है. सुल्तान कबूस की दौलत के बारे में खूब चर्चा होती है. लेकिन इसके अलावा एक अहम बात ये भी है कि सुल्तान का भारत से कनेक्शन भी है.

सुलतान का घर देख हो जाएँगे हैरान, चूल्हे पर बनता है खाना

सुल्तान कबूस की दौलत


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


दरअसल ओमान के सुल्तान कबूस ने भारत में पढ़ाई की है. कबूस पूर्व राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा के विद्यार्थी रह चुके हैं. शंकर दयाल शर्मा भारत के 9वें राष्ट्रपति थे.

इतना ही नहीं सुल्तान कबूस के पिता साद बिन तैमूर भी अजमेर के मेओ कॉलेज से पढ़े हैं. भारत से शिक्षा लेने के बाद उन्होंने अपने बेटे को भी यहाँ पढ़ाई करने के लिए भेजा था. सुल्तान कबूस ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा पुणे के किसी निजी संस्थान से की है. इसके अलावा उन्होंने अपने देश के इतिहास और इस्लाम की पढ़ाई भी की है.

सुल्तान कबूस की दौलत

आगे की पढ़ाई के लिए उन्हें इंग्लैंड भेजा गया. पढ़ाई के अलावा उन्होंने ब्रिटिश आर्मी में भी अपना योगदान दिया है. सुल्तान पहली बटालियन The Cameronians का हिस्सा रहे हैं. सुल्तान वर्ष 1970 से शासन कर रहे हैं. इतना लंबा कार्यकाल पूरा करने वाले वे पहले अरब नेता हैं.

फोर्ब्स के अनुसार सुल्तान कबूस की संपत्ति 2008 में 1.1 बिलियन डॉलर यानि करीब 70 अरब रुपये थी, जो अब उससे भी आगे निकल गई है. कबूस दुनिया के सबसे अमीर शाही शासकों में से एक हैं.

कबूस का कारोबार गैस और तेल सेक्टर में फैला हुआ है. इसके अलावा देश की जनता में उनके लिए बहुत प्यार है. सुल्तान मस्जिदों को अधिक से अधिक फंड देने के लिए जाने जाते हैं. इसके अलावा उन्हें नेशनल काउंसिल ऑन यूस-अरब रिलेशन की ओर से शांति पुरस्कार से भी सम्मानित किया जा चुका है.

ये भी देखें:

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...