जी हां, सही सुन रहे हैं आप। बॉलीवुड फिल्‍म डायरेक्‍टर साजिद खान मुन्‍ना भाई की किस्‍मत को बदल कर रख सकते थे। पर फिर….। फिर क्‍या, ऐसा न हो सका। कारण थे खुद साजिद, क्‍योंकि उन्‍होंने फिल्‍म के निर्देशक राजकुमार हिरानी का ऑफर ही जो ठुकरा दिया था।

खुद खोला राज
ये सच हाल ही में उस वक्‍त सामने आया, जब एक इंटरव्‍यू के दौरान फिल्‍ममेकर साजिद खान ने 14 साल पहले लिए अपने एक फैसले पर अफसोस जताया। दरअसल वो बताना चाह रहे थे कि उन्‍हें एक्‍टिंग के भी ऑफर मिले, लेकिन खुद उन्‍होंने ठुकराए। उन्‍होंने बताया कि उन्‍हें कई फिल्‍मों में एक्टिंग के ऑफर आए, लेकिन खुद उन्‍होंने ही सबको मना कर दिया।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


पढ़ें इसे भी : सबसे स्‍पेशल हैं रितेश देशमुख के गजानन, जवाब इस वीडियो में छिपा है

किया गया था अप्रोच
हां, ये जरूर है कि इनमें से एक ऑफर को ठुकराने का उन्‍हें अफसोस हमेशा रहेगा। साजिद ने बताया कि उन्‍हें राजकुमार हिरानी ने 2003 में फिल्‍म ‘मुन्‍नाभाई एमबीबीएस’ में अरशद वारसी के किरदार के लिए अप्रोच किया था। संजय दत्‍त ने उनसे कहा था कि इसको लेकर वह हिरानी से मिल लें, लेकिन उस वक्‍त वह टीवी के अपने काम में इतनी बिजी थे कि उनसे नहीं मिल पाए।

पढ़ें इसे भी : कपिल ने कर दिया सिंघम को नाराज, नहीं आ रहे अपने रवैये से बाज

इस बात का रहेगा अफसोस
आज उन्‍हें उस रोल को न कर पाने का सबसे ज्‍यादा अफसोस है। वैसे याद दिला दें कि साजिद खान की एक्‍टिंग का नमूना फिल्‍म ‘झूठ बोले कौआ काटे’ में आप भी देख चुके हैं। उन्‍होंने बताया कि वह एक्टिंग में नहीं, डायरेक्‍शन में जाना चाहते थे। हाल ही में उन्‍हें फिल्‍म ‘शानदार’ और ‘कॉफी विद डी’ का भी ऑफर आया था, लेकिन उन्‍होंने इसमें इंट्रेस्‍ट नहीं दिखाया।

पढ़ें इसे भी : संजय निरुपम को चाहिए था बिग बी का साथ, फिर कैसे पहुंच गए हवालात

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...