लो भाई, बिग बी के साथ की थी इनको आस और खाने को मिल गई जेल की हवा। ये हाल हुआ है मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम का। उनको उनके ही घर से ही पुलिस ने हिरासत में ले लिया। यहां से उनको वर्सोवा पुलिस स्टेशन ले जाया गया। आइए देखें, आखिर क्‍यों हुआ उनका ये हाल।

ऐसी है खबर
दरअसल खबर कुछ ऐसी है कि संजय अमिताभ बच्चन से मिलकर फिल्म मजदूर संगठन का साथ देने के लिए गुहार लगाना चाहते थे। वह चाहते थे कि मजदूरों के समर्थन में उतरकर अमिताभ अपने फिल्मों और शोज की शूटिंग रोक दें, लेकिन अपनी इस मंशा को लेकर वो अमिताभ से मिल पाते कि इससे पहले ही उन्हें रोक लिया गया।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


पहुंचे थे इस मंशा से
गौरतलब है कि शनिवार को संजय हड़ताल पर बैठे मजदूरों से मिलने और उनका दुख-दर्द सुनने पहुंचे थे। वहीं पर उन्होंने फैसला किया था कि वो रविवार को 2 बजे बिग बी से मिलेंगे पर वो ऐसा नहीं कर पाए। .

पढ़ें इसे भी : सबसे स्‍पेशल हैं रितेश देशमुख के गजानन, जवाब इस वीडियो में छिपा है

पुलिस ने बताया ऐसा
इस बारे में पुलिस का कहना है कि उस इलाके में धारा 144 लगाई गई है और संजय ने अमिताभ से मिलने का समय भी नहीं लिया है। इसके अलावा पुलिस का कहना है कि संजय उनके घर आंदोलन के इरादे से जा सकते हैं। इसके लिए उन्‍हें परमिशन नहीं दी गई है।

मिल गया नोटिस
यही वजह रही कि संजय को धारा 149 के तहत नोटिस दे दिया गया कि अगर उन्होंने ऐसा कुछ भी करने की कोशिश की तो उन्हें रोका जाएगा। वहीं इस मामले में संजय खुद कहते हैं कि अमिताभ बच्चन को उनका साथ देना चाहिए। उनके हक में खड़े होकर शूटिंग नहीं करनी चाहिए।

पढ़ें इसे भी : कपिल ने कर दिया सिंघम को नाराज, नहीं आ रहे अपने रवैये से बाज

बताया बीजेपी का हाथ
उन्‍होंने कहा कि वह कामगारों के हक के लिए लड़ रहे हैं। इसके साथ ही साथ उन्‍होंने ये भी कहा कि इसके पीछे बीजेपी का हाथ है। खैर, जो सोचा संजय ने वो तो नहीं हो सका, उल्‍टा कुछ और ही हो गया।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...