आमतौर पर भी बॉलीवुड की देसी गर्ल प्रियंका चोपड़ा अपने ड्रेसिंग सेंस को लेकर सुर्खियों में बनी रहती हैं. वहीं इस बार वह अपने ड्रेसिंग स्टाइल के चलते विवादों में घिर गईं हैं. दरअसल हाल ही में असम टूरिज्म डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन का नया कैलेंडर रिलीज किया गया. इस कैलेंडर पर छपे एक फोटो में देखा गया कि प्रियंका चोपड़ा ने रिविलिंग ड्रेस पहनी हुई थी. प्रियंका की इस क्लीवेज फोटो को लेकर अब कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने आपत्ति जताई है.

कांग्रेस पार्टी ने की ऐसी मांग
एक रिपोर्ट के मुताबिक, असेंबली सेशन के दौरान कांग्रेस पार्टी की मेंबर रूपज्योती कुर्मी (एमएलए, मरिअनी), रोजलीन टिर्की (एमएलए, सारुपथर) और नंदिता दास (एमएलए, बोको) ने प्रियंका पर आरोप लगाया कि उनके इस ड्रेस और पहनावे के कारण असम की सभ्यता को गलत तरह से पेश किया गया है. इसलिए उन्होंने असम के ब्रांड एम्बेसडर पद से हटा देना चाहिए. टाइम 8 से बातचीत में कांग्रेस पार्टी ने कहा कि फ्रॉक किसी भी तरह से असम की वेशभूषा नहीं है और कैलेंडर पर छपे ये फोटोज बिलकुल भी सभ्य नहीं है. फ्रॉक की बजाय प्रियंका को यहां की पारंपरिक मेखेला चादर का इस्तेमाल करना चाहिए थे. इसलिए अब उनके खिलाफ विरोध किया जा रहा है.


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


पेश की गई सफाई
इस मामले में अपना बचाव करते हुए असम टूरिज्म डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन के चेयरमैन जयंत मल्लाह बरुआ ने कहा कि इस कैलेंडर ऐसी कोई भी आपत्तिजनक बात नहीं है. इस कैलेंडर को इसलिए बनाया गया ताकि असम को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रमोट किया जा सके. इसलिए इस कैलेंडर को कई इंटरनेशनल टूर ऑपरेटर्स के पास भी भेजा जा चुका है. आगे उन्होंने कहा कि प्रियंका एक इंटरनेशनल फिगर हैं और उन्होंने किसी भी तरह से असम की सभ्यता को नहीं बिगाड़ा है.

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...