पद्मावती कास्ट के लिए मुसीबतें कम होने का नाम ही नहीं ले रही हैं. जैसे-जैसे पद्मावती की रिलीज़ डेट पास आ रही है, वैसे-वैसे फिल्म का प्रमोशन और दूसरे राज्यों में इसकी रिलीज़ रोकने की खबर बढ़ती जा रही है. पहले की तरह अब एक बार फिर इस कास्ट को विरोध झेलना पड़ रहा है.

बता दें कि चितौड़गढ़ की महारानी पद्मावती पर बन रही फिल्म का राजपूत करणी सेना इसका विरोध कर रही है. सेना ने इस बार राष्ट्रीय स्तर पर फिल्म के विरोध में मोर्चा खोल दिया है. इसके लिए चितौड़गढ़ को बंद कर दिया गया है.


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


खबर है कि राजपूत फिल्म में पद्मावती की डांस को लेकर खफा है. उनका कहना है कि फिल्म में ‘पद्मावती’ पर फिल्माए जाने वाले कुछ किरदार सच्चाई से परे हैं और इनका इतिहास और किताबों में कहीं भी उल्लेख नहीं है. विरोधियों ने यहां तक कहा कि पद्मावती कभी अलाउद्दीन खिलजी से मिली ही नहीं. अरे भाई अब ज़ाहिर है कि अगर ये फिल्म है, तो इसमें फिक्शनल वर्क होगा ही.

शाहिद और मीरा का फोटोशूट है ख़ास, लग रहे हैं एकदम रॉयल कपल

भाजपा और कांग्रेस की गुजरात इकाईयों ने आयोग को पत्र लिखकर मांग की थी कि फिल्म को प्रतिबंधित कर दिया जाए या इसकी रिलीज की तारीख को आगे बढ़ा दिया जाए. लेटर में उन्होंने कहा था कि फिल्म की रिलीज से राजपूत समुदाय की भावनाएं हो सकती हैं जैसा कि राजपूत समुदाय के प्रतिनिधि कह रहे हैं.

शुक्रवार को फिल्म के विरोध में राजस्थान के चित्तौड़गढ़ में निजी स्कूलों को बंद रखा गया. गैर अनुदानित शिक्षण संस्था संचालक समिति ने धमकी दी है कि शहर के किसी भी सिनेमाघर में न तो वो फिल्म को रिलीज होने देंगे, न ही कोई बैनर और पोस्टर लगाने देंगे.

अब देखना ये है कि 1 दिसम्बर को वाकई में फिल्म रिलीज़ होती है या इसकी तारीख आगे बढाने की नौबत आएगी.

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...