बॉलीवुड फिल्‍मों का भी कोई जोड़ नहीं है। कुछ तो ऐसी होती हैं जो थिएटर्स पर सिर्फ चंद दिनों का कमाल दिखाकर ही उतर जाती हैं और कुछ ऐसी होती हैं जो 20-20 सालों तक एक ही थिएटर से उतरने का नाम भी नहीं लेती हैं। अब 1995 में रिलीज हुई फिल्‍म ‘दिलवाले दुल्‍हनिया ले जाएंगे’ को ही ले लीजिए। मुंबई के मराठा मंदिर में इस फिल्‍म ने लगातार 20 साल तक चलने का रिकॉर्ड बनाया। वैसे इस क्रम में ये अकेली ही फिल्‍म नहीं है। ऐसी कई और भी हिंदी मूवी रही हैं, जिन्‍होंने लंबे समय तक थिएटर्स से दोस्‍ती कायम रखने का रिकॉर्ड बनाया है। आइए देखें कौन सी हैं वो फिल्‍में।

1 .  दिलवाले दुल्‍हनिया ले जाएंगे
1995 में आई यशराज बैनर की मूवी ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ ऐसी फिल्म है, जिसके नाम थिएटर में सबसे ज्यादा वक्त तक चलने का रिकॉर्ड है। यह मूवी मुंबई के मराठा मंदिर थिएटर में 1009 हफ्तों यानी कि पूरे 20 साल तक लगातार चली।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


2 . शोले
1975 में रिलीज हुई निर्देशक जीपी सिप्पी की फिल्‍म ‘शोले’ भी मुंबई के मिनर्वा थिएटर में करीब 5 साल तक लगातार चली थी। कहा जाता है कि शोले का रिकॉर्ड ‘दिलवाले दुल्‍हनिया ले जाएंगे’ ने ही तोड़ा।

3 . ‘किस्‍मत’
1943 में रिलीज हुई अशोक कुमार स्‍टारर फिल्‍म ‘किस्‍मत’ को भी दर्शकों ने खूब पसंद किया। इसी के चलते इस फिल्‍म ने एक ही थिएटर में 187 हफ्तों तक चस्‍पा रहने का रिकॉर्ड कायम किया।

4 . मुगल-ए-आजम
1960 में रिलीज हुई फिल्‍म ‘मुगल-ए-आजम’ को दर्शक शायद कभी नहीं भूल पाएंगे। फिल्‍म में दिलीप कुमार और मधुबाला की एक्‍टिंग ने इसे हमेशा-हमेशा के लिए यादगार बना दिया। वैसे तो इस फिल्‍म ने अपने समय में कई बड़े रिकॉर्ड तोड़े थे। वहीं इस मूवी ने एक ही थिएटर में 150 हफ्ते बिताने का रिकॉर्ड भी बनाया था।

5 . बरसात
1949 में रिलीज हुई राज कपूर और नर्गिस स्‍टारर फिल्‍म ‘बरसात’ ने भी कुछ कमाल नहीं दिखाया। दर्शकों ने फिल्‍म को जबरदस्‍त तरीके से पसंद किया। यही कारण रहा कि अपने समय में इस फिल्‍म ने एक ही थिएटर में 100 हफ्ते काटने का रिकॉर्ड कायम किया।

6 . मैंने प्‍यार किया
1989 में रिलीज हुई सलमान खान की डेब्‍यू मूवी ‘मैंने प्‍यार किया’ तो आज भी लोगों की हॉट फवेरेट मूवी में शुमार है। ये भले ही सल्‍लू मियां की लीड रोल में पहली फिल्‍म रही हो, लेकिन इसी फिल्‍म से उन्‍होंने दर्शकों के दिलों पर राज करना शुरू कर दिया था। यही वजह रही कि इस फिल्‍म ने एक ही थिएटर में 50 हफ्ते टिके रहने का रिकॉर्ड बनाया था।

7 . ‘हम आपके हैं कौन’
1994 की बेजोड़ फिल्‍म ‘हम आपके हैं कौन’ को देखने के लिए तो आज भी लोग बेकरार रहते हैं। वहीं अपने समय में इस फिल्‍म ने एक ही थिएटर में 50 हफ्ते टिके रहने का रिकॉर्ड बनाया था।

8 . ‘राजा हिंदुस्‍तानी’
1996 में रिलीज हुई फिल्‍म ‘राजा हिंदुस्‍तानी’ को तो कोई जोड़ ही नहीं। फिल्‍म में करिश्‍मा कपूर और आमिर खान की एक्‍टिंग को दर्शकों ने खूब सराहा। इसी के चलते फिल्‍म ने उस समय एक ही थिएटर में 50 हफ्ते टिके रहने का रिकॉर्ड बनाया।

9 . ‘कहो न प्‍यार है’
सन् 2000 में आई फिल्‍म ‘कहो न प्‍यार है’ ने दर्शकों के बीच जबरदस्‍त तहलका मचाया। इस फिल्‍म से दर्शकों ने इसके दोनों डेब्‍यू स्‍टार्स रितिक रोशन और अमीषा पटेल का भी दिल से स्‍वागत किया। इस फिल्‍म ने भी थिएटर में 50 हफ्ते रंग जमाने का रिकॉर्ड बनाया था।

10 . ‘मोहब्‍बतें’
2000 में ही ‘कहो न प्‍यार है’ के अलावा एक और बड़ी हिट फिल्‍म आई। ये फिल्‍म थी ‘मोहब्‍बतें’। फिल्‍म और इसके गानों ने दर्शकों के दिलों में ऐसा घर किया कि अभी भी ये लोगों को याद है। इस फिल्‍म ने भी थिएटर में 50 हफ्ते चलने का रिकॉर्ड कायम किया था।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...