गर्मी के मौसम में प्रतिरोधक क्षमता घटने से लोगों को तरह-तरह की बीमारियां घेरती हैं, तो सर्दी भी कुछ कम कहर नहीं ढाती। सर्दी की शुरुआत के साथ ही जुखाम, खांसी, बुखार, गले में दर्द जैसी दिक्कतें आए दिन होती रहती हैं।

घट जाती है रोग प्रतिरोधक क्षमता

वास्तव में सर्दी के मौसम में शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने की वजह से लोग अक्सर इन बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं। ऐसे में जरूरी है कि इस तरह के संक्रमणों से बचने के लिए शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाई जाए।

घरेलू उपाय से भी मिल सकती राहत

खास बात यह है कि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए किसी तरह की दवाई या सप्लीमेंट खाने की जरूरत नहीं होती। अगर हम रोज कुछ साधारण घरेलू उपाय अपना लें तो शरीर बीमारी से बचाव के लिए तैयार रहेगा।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


हेल्थ टिप्सः शहद और नींबू का करें इस्तेमाल, सर्दी को करें बेहाल

सामान्य बनाए रखें शरीर का तापमान

वैसे शरीर को रोगों से बचाने के लिए सबसे जरूरी तो यही है कि शरीर का तापमान सामान्य बनाए रखें। सीधे हवा के संपर्क में न आएं। रजाई से एकाएक निकल कर बाहर सर्दी में जाने से भी बचना चाहिए। इसके अलावा विशेषज्ञ खान-पान में भी कई चाजें शामिल करने की सलाह देते हैं।

इस मौसम में धूप की न करें अनदेखी

कड़ाके की सर्दी में धूप के सामने बैठना सबसे सुकून भरा काम होता है। धूप में बैठने से शरीर में विटामिन डी की मात्रा बढ़ती है जिससे प्रतिरोधक क्षमता में बढ़ोतरी होती है। लोकिन एक बात का ध्यान रखें 15-20 मिनट तक अच्छी धूप आपके शरीर के लिए काफी है।

ज्यादा देर इसके सहारे न भगाएं सर्दी

यानी की ज्यादा धूप भी नुकसानदेह हो सकती है। देर तक धूप में बैठे रहेंगे तो सनबर्न तो होगा ही और साथ ही स्किन कैंसर का खतरा भी बढ़
जाएगा। इसलिए सर्दी से बचने के लिए सिर्फ धूप का सहारा न लें, पर इसकी अनदेखी न करें।

डाइनिंग टेबल पर खेले बच्चा तो समझ लो सेहत से होगा भरपूर

नियमित रूप से कसरत करना फायदेमंद

योग और व्यायाम करने से भी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। वर्कआउट करने से फेफड़ों में जमा खतरनाक बैक्टीरिया शरीर से बाहर निकल जाते हैं जो बीमारियों से बचाते हैं।

सोने में कतई न बरतें कोताही

अगर आपको रात में ज्यादा देर तक जागने या फिर कम सोने की आदत है तो आपको संक्रमण होने का ज्यादा खतरा है। इसलिए अगर प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना है तो कम से कम सात घंटे की नींद रोज लें।

शानदार एंटीऑक्सीडेंट है शहद

2012 में प्रकाशित हुए एक अध्ययन के मुताबिक शहद एक शानदार एंटीऑक्सीडेंट है जो शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में भी मददगार होता है। इसलिए नियमित रूप से उचित मात्रा में शहद का सेवन शरीर की क्षमता बढ़ा सकता है।

सर्दी-जुकाम में अदरक का इस्तेमाल

अदरक के बारे में तो हर कोई जानता है कि यह सर्दी-जुखाम ठीक करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। अगर इसे रोज किसी न किसी रूप में खाया जाए तो ये शरीर को बीमारी की चपेट में आने से भी बचाता है। खांसी से उबरने में भी अदरक काफी मददगार होता है।

नींबू में पाया जाता है विटामिन सी

आमतौर पर ऐसी धारणा है कि नींबू में मौजूद विटामिन सी से सर्दी ठीक हो जाती है। इसके लिए नींबू को बेहतर माना जाता है। इसके अलावा एक अन्य अध्ययन में कहा गया है कि हल्दी में करक्यूमिन नाम का तत्व होता है, जो प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है।

शोधः चार कप कॉफी रोज पीएं, बीमारियों से दूर रहें

संयम से पीएं चाय, यह भी एक उपाय

लोग ऐसा मानते हैं कि चाय पीना सेहत के लिए हानिकारक होता है। पर क्या आप विश्वास करेंगे कि अगर सीमित मात्रा में रोज चाय पीते हैं खासकर ग्रीन टी और ब्लैक टी तो इससे आपकी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

फायदे की पुष्टि अध्ययन से हुई

इसकी पुष्टि 2003 में हुए एक अध्ययन में भी हुई थी। इसमें कहा गया था कि चाय में अलकाइल एमिंस नाम के प्राकृतिक रसायन होते हैं जो प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं। यानी अगर संयम से पी जाए तो चाय भी फायदेमंद है।

एकता की मिसाल: गायों को रहमान बना रहे सेहतमंद, गरीबों को देते हैं मुफ्त दूध

रोज खाएं लहसुन, दिल भी रहेगा मजबूत

शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का सबसे बेहतर तरीका है कि आप अपने खाने में रोज लहसुन का प्रयोग करें। लहसुन न सिर्फ प्रतिरोधक क्षमता बेहतर बनाता है बल्कि यह दिल को भी स्वस्थ रखता है। इसे आप कच्चा भी खा सकते हैं और खाने में डालकर भी इसका सेवन कर सकते हैं।

समय पर खाएं दही तो मिलेगा लाभ

सर्दी में रोग प्रतिरोधक क्षमता में इजाफा करना है तो रोज नाश्ते में दही, योगर्ट जैसी दूध से बनी चीजें खाएं। ये इंफेक्शन से लड़ने में मदद करती हैं। इसमें मौजूद विटामिन डी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने मे काफी उपयोगी होता है।

चिकन सूप भी बचाता है सर्दी से

अगर आप नॉन वेज खाते हैं तो रोज एक कटोरी चिकन सूप पीने से सर्दी-जुखाम दूर रहेगा। चिकन के अलावा इस सूप में मौजूद प्याज, शकरकंद, गाजर और काली मिर्च जैसी चीजें श्वेत रक्त कणिकाओं को बढ़ाती हैं जो सर्दी से बचाव करता है। यूसीएलए द्वारा एक अध्ययन में कहा गया है कि चिकन में पाया जाने वाला तत्व कारनोसिन सर्दी से बचाता है।

मोटापे से हैं परेशान तो खाइए फाइबर युक्त चीजें, घटने लगेगा वजन

मशरूम से भी मिल सकती है राहत

प्रतिरोधक क्षमता को बेहतर बनाने के लिए मशरूम खाना काफी फायदेमंद होता है। एक ताजा शोध में पता चला है कि मशरूम से महिलाओं की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है जो स्तन कैंसर से बचाती है।

उदासी को खुद पर न होने दें हावी

सर्दी का मौसम ऐसा होता है कि लोगों को अवसाद घेर सकता है। इससे बचना चाहिए। 2007 में हुई एक शोध से पता चला है कि जोर-जोर से हंसना प्रतिरोधक क्षमता में इजाफा करता है। इससे आपका तनाव कम होता है और नींद भी बेहतर ढंग से आती है। इसलिए प्रतरोधक क्षमता को बेहतर करना है तो हंसना जारी रखें।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...