अगर आफ माउथवाश का अधिक इस्तेमाल करते हैं तो इससे डायबिटीज होने की आशंका बढ़ जाती है। शोधकर्ताओं ने इसकी चेतावनी दी है। अमरीका की हार्वर्ड यूनीवर्सिटी के अनुसंधानकर्ताओं ने यह पाया कि जीवाणु रोधी तरल पदार्थ से मुंह साफ करने से मुंह में रहने वाले मोटापा और डायबिटीज से सुरक्षा में मददगार जीवाणु नष्ट हो सकते हैं।

अमरीका में किया गया शोध

अमरीका में हुए इस अनुसंधान के अनुसंधानकर्ताओं में भारतीय मूल का भी एक अनुसंधानकर्ता शामिल है। उन्होंने पाया कि जो लोग दिन में दो बार माउथवाश का इस्तेमाल करते हैं, उनमें डायबिटीज या खतरनाक ब्लड शुगर का खतरा करीब 55 प्रतिशत बढ़ने की आशंका रहती है।

इसलिए है हानिकारक माउथवाश

हार्वर्ड स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ में प्रोफेसर कौमुदी जोशिपुरा ने बताया कि माउथवाश में अधिकतर जीवाणु रोधी घटक चयनीय नहीं
हैं। ‘द टेलीग्राफ’ ने कौमुदी के हवाले से लिखा कि दूसरे शब्दों में वे मुंह के विशिष्ट जीवाणु को निशाना नहीं बनाते इसके बजाय ये घटक व्यापक स्तर पर जीवाणु पर ही कार्रवाई कर सकते हैं।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


नाइट्रिक ऑक्साइड पत्रिका में प्रकाशित

यह अनुसंधान नाइट्रिक ऑक्साइड पत्रिका में प्रकाशित हुआ है। अध्ययन में 40 और 65 के बीच की उम्र के ऐसे 1,206 मोटे व्यक्तियों को शामिल किया गया, जिनमें डायबिटीज होने का खतरा अधिक होता है।

डायबिटीज से सुरक्षा करते जीवाणु

प्रोफेसर कौमुदी जोशिपुरा के अनुसार मुंह में रहने वाले ये मददगार जीवाणु मधुमेह एवं मोटापे से सुरक्षा कर सकते हैं। इनमें वैसे जीवाणु भी शामिल हैं जो शरीर के इंसुलिन स्तरों को नियंत्रित करने में सहायक नाइट्रिक ऑक्साइड का उत्पादन करने में मदद कर सकते हैं।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...