आजकल हर कोई फिट और स्वस्थ रहना चाहता है और इसके लिए लोग कई तरीके अपना रहे हैं, जिसमें जिम, योगा, एरोबिक्स और जुम्बा भी शामिल है। डांस पर आधारित फिटनेस प्रोग्राम जुम्बा इन दिनों सबसे ज्यादा प्रचलित है और लोगों को खूब पसंद भी आ रहा है। जुम्बा यानि फिटनेस, फन, मस्ती और डांस का एक मज़ेदार कॉम्बो पैक, जो ना सिर्फ कैलोरी कम करता है बल्कि तनाव को भी दूर करता है।

जुम्बा दरअसल लैटिन, इंटरनेशनल म्यूजिक और डांस मूव्स का एक बेहतरीन कॉम्बिनेशन है जिसमें चार डांस के चार प्रकार – मेरेंगुए, कुम्बिआ, रेगेतोन और सालसा शामिल हैं। लोगों की उम्र, क्षमता, ताकत, शारीरिक बनावट और तनाव के अनुसार नौ तरह के जुम्बा फिटनेस प्रोग्राम डिज़ाइन किए गए हैं।

 जुम्बा


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


जुम्बा गोल्ड : जो शुरूआती प्रोग्राम माना जाता है, इसे नए प्रशिक्षुओं एवं बुज़ुर्गो के लिए डिजाईन किया गया है।

जुम्बा बेसिक स्टेप वन : यह सबसे लोकप्रिय है जिसे सबसे ज्यादा लोग फॉलो करते हैं।

स्ट्रांग बाय जुम्बा : यह अपेक्षाकृत नया प्रोग्राम है। इसे 2016 में शुरु किया गया है और यह सिंक म्यूजिक पर हाई इंटेंसिटी वर्कआउट है।>

अक्वा जुम्बा : इसे इम्पैक्ट हाई एनर्जी एक्वेटिक एक्सरसाइज भी कहा जाता है, यह स्विमिंग पूल में की जाती है। एक्वा जुम्बा एक्सरसाइज में शरीर के जोड़ों पर ज्यादा अधिक प्रभाव नहीं पड़ता।

जुम्बा गोल्ड टोनिंग प्रोग्राम : इसमें बुज़ुर्गो की मसल स्ट्रेंथ, शारीरिक दशा और समंवय को बेहतर बनाने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

जुम्बा इन दी सर्किट फीचर्ड एक्सरसाइज एडवांस्ड वर्कआउट है।

जुम्बा टोनिंग : इसमें छड़ी या लकड़ी का उपयोग करते हुए शरीर के अलग-अलग अंगों को सुडौल बनाया जाता है, साथ ही यह कार्डिओ वर्कआउट और क्षमता बढ़ाने में भी मददगार है।

हेल्थ टिप्स: रोज खाइए अंकुरित चना, दूर रहेगी कब्ज की समस्या

जुम्बा सेंटो : इसमें वजन पर ध्यान केंद्रि‍त करते हुए कुर्सी का सहारा लेकर एक्सरसाइज की जाती है जिससे शरीर को मजबूती मिलती है और वह सुडौल बनता है।

जुम्बा किड्स प्रोग्राम : यह बच्चों की फिटनेस को ध्यान में रखते हुए डिज़ाइन किया गया है। यह प्रोग्राम विशेष तौर पर सिर्फ 4-12 साल के बच्चों के लिए है जो उनकी शारीरिक और मानसिक क्षमता को बढ़ाने में फायदेमंद है।

जुम्बा केवल एक्सरसाइज ही नहीं, बल्कि इसे आप एक घंटे की पार्टी समझ सकते हैं, जिसमें आप अपने दोस्तों एवं साथियों के साथ मौज-मस्ती करते हुए 800-1000 कैलोरी बर्न कर सकते हैं। जुम्बा शुरु करते समय ध्यान रखें कि जो आपको जुम्बा सिखा रहा है, उसके पास इसे सिखाने का लाइसेंस जरूर हो। यदि आपको कोई शारीरिक समस्या या कोई बीमारी है, तो जुम्बा प्रोग्राम शुरु करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेना बेहद आवश्यक है।

ये भी देखिए…

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...