जोड़ों का दर्द आम हो गया है। खासकर सर्दी के मौसम में यह दर्द लोगों को काफी परेशान करता है। इससे निपटने के लिए लोग तरह-तरह के जतन भी करते रहते हैं। कई अध्ययन में सामने आया है कि 40 की उम्र के बाद पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में जोड़ों, कूल्हों, हाथों के दर्द की समस्या ज्यादा हो जाती है।

दर्द निवारक के साइड इफेक्ट

आम तौर पर डॉक्टर जोड़ों के दर्द यानी ऑर्थराइटिस के लिए या तो पेन किलर देते हैं या फिर ऐसी डोज जिसके साइड इफेक्ट हो जाते हैं। इन सबके बीच कुछ ऐसे उपाय हैं, जिन्हें अपनाकर आप इस दर्द से छुटकारा पा सकते हैं। विशेषज्ञों की मानें तो ये तरीके काफी फायदेमंद होते हैं।

हेल्थ टिप्सः अधिक उम्र में दिल को नहीं लगाना है रोग तो अभी से करें यह प्रयोग


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


मसाज है सबसे आसान

जोड़ों का दर्द और खिंचाव से निजात पाने के लिए मसाज सबसे आसान तरीका है। हालांकि ऑर्थराइटिस फाउंडेशन का यह भी मानना है कि अगर आपके जोड़ ज्यादा कमजोर और कोमल हैं तो आपको मसाज से दूर रहना चाहिए।

एक्यूपंक्चर से भी राहत

इसमें आपके शरीर के कुछ खास हिस्सों पर सुई चुभाई जाती हैं जिससे नसों, मांसपेशियों और जोड़ वाले ऊतक पर असर पड़े। एक्सपर्ट्स
का मानना है कि जोड़, गले, दांत के दर्द में यह तकनीक सहायक है।

हेल्थ टिप्सः मेवा खाएं और बीमारियों को दूर भगाएं

वजन कम करने से लाभ

अगर वजन घटा सकते हैं तो इससे भी लाभ मिल सकता है। एक पाउंड भी वजन कम करने से आपके सूजे और दर्द देने वाले जोड़ पर चार पाउंड प्रेशर कम हो जाता है। इसलिए अगर ऑर्थराइटिस के दर्द से आराम पाना है तो नियंत्रित भोजन और नियमित व्यायाम पर ध्यान दें।

मछली का सेवन लाभकारी

अगर आप मांसाहारी हैं तो यह नुस्खा फायदेमंद हो सकता है। मछली में भरपूर मात्रा में ऐसे तत्व होते हैं जो ओमेगा-3 फैटी एसिड से लड़ते हैं। इसलिए हफ्ते में लगभग दो बार करीब 100 ग्राम मछली खाना दर्द के छुटकारे के लिए अच्छा है। इसके लिए आप सालमन, टूना, माकेरेल और हेरिंग मछलियां चुन सकते हैं।

हेल्थ टिप्सः शहद और नींबू का करें इस्तेमाल, सर्दी को करें बेहाल

चीनी तरीका ताई-ची

‘ताई-ची’ दर्द को कम करने का चीनी तरीका है। इसके तहत हल्के लहराते हुए मूवमेंट, लंबी सांस और मेडिटेशन के इस्तेमाल से जोड़ों के दर्द से छुटकारा दिलाया जाता है। इससे आप बेहतर ढंग से चल-फिर सकते हैं।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...