हर दिन कुछ कहता है। दिन विशेष के लिए राशियों की भाषा अलग-अलग होती है। आपकी राशि आपके लिए क्या कहती है, आपको इसे जानने की प्रबल इच्छा रहती है। 8 नवम्बर को घर में खुशियों की एंट्री का क्या समय होगा, आइये जानते हैं। इसके अलावा ये भी कि आपकी राशि 8 नवम्बर के बारे में क्या कहती है। इसके अतिरिक्त 8 नवम्बर के दिन का शुभ मुहूर्त भी जानना चाहिए ताकि आप अपने शुभ कार्यों को उस समय में प्राम्भ कर सकें और अपने जीवन को सुखमय बना सकें।

विश्वास मानो, ये पांच राशियाँ आपको कभी नहीं देंगी धोखा

8 नवम्बर

◆ 8 नवम्बर का पंचांग◆

8 नवम्बर दिन बुद्धवार
ऋतु-शरद
माह-मार्गशीर्ष
सूर्य-दक्षिणायन
सूर्योदय-06:32
सूर्यास्त-05:28
राहूकाल(अशुभ समय)दोपहर 12:00से,01:30तक
तिथि-पंचमी
पक्ष-कृष्ण
दिशाशूल-उत्तर
अमृतमुहूर्त-प्रातः08:07से09:28तक है।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


8 नवम्बर को राशियों का प्रभाव

मेष राशि :-

(ला, ली, लू, ले ,लो , चे, चो ,अ, कू)

आज आपका दिन मध्यम फलदायी रहेगा, ऐसा गणेशजी कहते हैं। आप शारीरिक थकान का अनुभव करेंगे। संभव हो तो प्रवास टालें। स्वास्थ्य को संभालें क्योंकि पेट से संबंधित बिमारियों की संभावना है। संतान के विषय में चिंतित रहेंगे। आज कार्य में सफलता प्राप्त के योग हैं। कार्य की भागदौड़ के कारण परिवार के लिए कम समय निकाल पाएंगे।

सुझाव:-आज आप  हरी घास  गौ माता को खिलावें

राशिरत्न:-मूँगा

शुभरंग:- स्लेटी

वृष राशि :-

(वा, वी, वि, वू , वे ,वो ,ई ,उ, ए ओ)

आज आपका दिन मध्यम फलदायी रहेगा, ऐसा गणेशजी को प्रतीत होता है। आप किसी भी कार्य को दृढ़ मनोबल एवं पूर्ण विश्वास के साथ कर पाएंगे। पिता एवं पैतृक संपत्ति से लाभ होने के योग हैं। आप के प्रति आपके पिता का व्यवहार भी अच्छा रहेगा। कलाकार तथा खिलाड़ियों के लिए आज का दिन बहुत अच्छा है, क्योंकि उन्हें अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर मिलेगा। संतान के पीछे खर्च के योग हैं।

सुझाव:-आज आप  11विल्ब पत्र भगवान शिव को सीताराम लिखकर अर्पित करें।

राशिरत्न:-हीरा,ओपल

शुभरंग:- कत्थई

मिथुन राशि :-

(का,की कु, के, को हा, घ ,छ, )

आज का दिन आपके लिए अच्छा और लाभदायी होगा। मित्र, बंधु-बांधवों एवं पड़ोसियों के साथ आप के संबंध अच्छे रहेंगे। आर्थिक रूप से आज आप सजग रहेंगे। पूंजी निवेशकों को गणेशजी सूचित करते हैं कि वे बहुत सावधानीपूर्वक पूंजी निवेश करें। तन-मन से स्फूर्ति का आभास होगा। नए काम का प्रारंभ करने के लिए दिन अच्छा है। विरोधियों को आप परास्त कर पाएंगे |

सुझाव:-आज आप मूंग कबूतरों को खिलावें।

राशिरत्न:-पन्ना

शुभरंग:-हरा

कर्क राशि :-

(डा, डी, डू, डे, डो, हे, हो,हू ,ही)

आज का दिन मध्यम फलदायी है, ऐसा गणेशजी कहते हैं। आज आपके मन में ग्लानि रहेगी। जो भी कार्य करेंगे उसमें आपको संतोष नहीं मिलेगा। परिजनों के बीच मनमुटाव हो सकता है। खुद पर भरोसा रखें, मेहनत करेंगे तो सफलता जरूर मिलेगी। खर्च पर संयम रखें।

सुझाव:-आज आप विकलांगो की मदद करें।

राशिरत्न:-मोती

शुभरंग:-केशरिया

सिंह राशि :-

(मा, मी मू, मे, मो, टा, टि, टू, टै)

आज आपका दिन शुभ फलदायी होगा। आप आत्मविश्वास से भरपूर रहेंगें। हर कार्य को दृढ़ निश्चय के साथ संपन्न कर पाएंगे। पिता तथा बड़ों का सहयोग मिलेगा। सामाजिक क्षेत्र में मान-सम्मान मिलेगा। पूरा दिन आनंद से बीतेगा।

सुझाव:-आज आप दीमकों के लिए सूखे पेड़ के नीचे सातअनाज डालें।

राशिरत्न:-माणिक्य

शुभरंग:-श्वेत

कन्या राशि :-

( पा, पि, पू, पे, पो ष, म्, ठ टो)

आपका दिन शारीरिक एवं मानसिक चिंता के बोझ तले दबकर बीतेगा। आज किसी के भी साथ आपके अहम का टकराव न हो इसका विशेष ध्यान रखें। कोर्ट-कचहरी में सावधानी रखें। आकस्मिक धन खर्च होगा। शांत मन से कार्य करें।

सुझाव:-आज आप कन्या को भोजन करावें।

राशिरत्न:-पन्ना

शुभरंग:-बादामी

तुला राशि :-

(रे, रो, रा, री, ता, ती, तू, ते)

आज का दिन शुभफलदायी है, ऐसा गणेशजी कहते हैं। आज आपको भिन्न-भिन्न लाभ होने के योग हैं। मित्रों के साथ मिलना-जुलना और कुछ मनोहर स्थलों पर घूमने जाने की संभावना है। धनप्राप्ति के योग हैं। आय में वृद्धि हो सकती है। व्यापारी वर्ग को अच्छा लाभ मिल सकता है।

सुझाव:-आज आप स्त्रियों को आदर दें ।

राशिरत्न:-हीरा,ओपल

शुभरंग:-फिरोजी

वृश्चिक राशि :-

(ना ,नी, नू ,ने ,नो ,तो, या ,यी ,यू)

आज का दिन शुभफलदायी है, ऐसा गणेशजी कहते हैं। आपके गृहस्थजीवन में आनंद और उल्लास बना रहेगा। आपके सभी कार्य बिना अवरोध के संपन्न होंगे। मान-सम्मान मिल सकता है। नौकरी, व्यवसाय में पदोन्नति होगी। आरोग्य अच्छा रहेगा। धनलाभ का योग है।

सुझाव:-आज आप लाल रंग के पुष्प अर्पित माता रानी को करें।

राशिरत्न:-मूँगा

शुभरंग:-चॉकलेटी

धनु राशि :-

(ये,यो,भा, भी,भू, भे, ध, फ,ढ)

गणेशजी आपको यात्रा-प्रवास टालने को सूचित करते हैं। आज आपके शरीर में थकान रहेगी। मन में चिंता और व्याकुलता रहेगी। संतान के विषय में चिंता हो सकती है। व्यवसाय में भी बाधाएं उपस्थित हो सकती हैं। भाग्य साथ नहीं दे रहा ऐसा प्रतीत होगा लेकिन खुद पर भरोसा रखकर सावधानी से काम आगे बढ़ाइए।

सुझाव:-आज हरिवंश पुराण का पाठ करें।

राशिरत्न:-पुखराज

शुभरंग:-पीला

मकर राशि :-

(भे, जा,जी, जू जे जो खी, खू,खे, खो,गा, गी)

आपकी परिस्थिति ऑफिस एवं व्यवसाय क्षेत्र में आज अनुकूल रहेगी, ऐसा गणेशजी कहते हैं। ऑफिस के कार्य आप निपुणता से कर पाएंगे। व्यावहारिक तथा सामाजिक कार्य के लिए बाहर जाने के अवसर मिल सकते हैं। खान-पान एवं घूमने-फिरने में ध्यान रखिएगा। आकस्मिक खर्च के योग हैं। नए कार्य का प्रारंभ आज न करें, ऐसा गणेशजी सूचित करते हैं।

सुझाव:-आज आप शहद दान करें।

राशिरत्न:-नीलम

शुभरंग:-गुलाबी

कुम्भ राशि :-

(गू, गे, गो,सा,सी,सू से,सो,दा

आज आपमें दृढ़ मनोबल और आत्मविश्वास छलकता हुआ नजर आएगा। रुचिकर भोजन और नए वस्त्रों से मन अति प्रसन्न होगा। समाज में आपके मान-सम्मान में वृद्धि होगी। वाहनसुख प्राप्त होगा। भागीदारी से लाभ होगा एवं गणेशजी का आशीर्वाद आपके साथ है।

सुझाव:-आज आपअपने पास आज चाँदी का टुकड़ा रखें।

राशिरत्न:-नीलम

शुभरंग:-आसमानी

मीन राशि :-

(दी,दू,थ, झ, दे ,दो,चा, ची )

आज आपका दिन शुभफलदायी है, ऐसा गणेशजी कहते हैं। आज आपमें दृढ़ मनोबल एवं आत्मविश्वास का संचार होगा। आरोग्य खूब अच्छा रहेगा। घर में शांति और आनंद का वातावरण बना रहेगा। दैनिक कार्य अच्छी तरह से कर पाएंगे। प्रतिस्पर्धियों के सामने विजय प्राप्त होगी।

सुझाव:-आज आप नारियल माता रानी को अर्पित करें।

राशिरत्न:-पुखराज

शुभरंग:-सुनहला

।।दिन का विशेष महत्व।।

आज मार्गशीर्ष माह कृष्ण पक्ष पंचमी तिथि है।

।।प्रेरणा दाई चौपाई।।

तुम्ह कृपाल जा पर अनुकूला।
ताहि न व्यापि त्रिबिध भव सूला।।

अर्थ:-श्री रामचरितमानस जी मे विभीषण जी प्रभू श्री राम जी के चरणों मे प्रणत होकर निवेदन करते है कि हे कृपालु प्रभू आप जिन पर आप अनुकूल कृपा करते हो उनको   आध्यात्मिक, आदिदैविक, आधिभौतिक तीनों प्रकार के कष्ट नहीं मिलते । कितने कृपालु है आप मैं निशिचर हूँ और अत्यंत अधम स्वभाव का हूं मैन कोई भी शुभाचरण नहीं किया, बड़े बड़े योगीन्द्र, मुनि भी आपके रूपमाधुरी का दर्शन ध्यान में भी  नहीं पा सकते फिर भी आपने मुझ पापी को अपने हृदय से लगाया, अपने शरण मे स्थान दिया आपकी जय हो।”अस्तु धन्य है प्रभु श्री राम की उदारता।”

।।वास्तु टिप।।

कदली (केला)के वृक्ष की नित्य पूजा करने से वास्तु दोष का नाश होता है।

।।इति शुभम् ।।

।।आचार्य स्वामी विवेकानंद।।
।।श्री अयोध्या धाम ।।
।।श्रीरामकथा ,श्रीमद्भागवत कथा व्यास व ज्योतिर्विद।।
संपर्क सूत्र:-9044741252

ये भी देखें:

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...