हर दिन कुछ कहता है। दिन विशेष के लिए राशियों की भाषा अलग-अलग होती है। आपकी राशि आपके लिए क्या कहती है, आपको इसे जानने की प्रबल इच्छा रहती है। 4 नवम्बर को घर में खुशियों की एंट्री का क्या समय होगा, आइये जानते हैं। इसके अलावा ये भी कि आपकी राशि 4 नवम्बर के बारे में क्या कहती है। इसके अतिरिक्त 4 नवम्बर के दिन का शुभ मुहूर्त भी जानना चाहिए ताकि आप अपने शुभ कार्यों को उस समय में प्राम्भ कर सकें और अपने जीवन को सुखमय बना सकें।

लव रिलेशन: इन पांच दगाबाज़ राशियों से भूलकर भी न रखें रिश्ता

1 नवम्बर

◆ 4 नवम्बर का पंचांग◆

दिन शनिवार
ऋतु- शरद
मास-कार्तिक
सूर्य दक्षिणायन
सूर्योदय:-06:30
सूर्यास्त:-05:30
राहू काल(अशुभ समय) प्रातः
09:00से 10:30 तक
तिथि-पुंर्णिमा
पक्ष:-शुक्ल
दिशाशूल:-पूर्व
अमृतमुहूर्त-दोपहर 02:56से04:17तक है।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


4 नवम्बर को राशियों का प्रभाव

? मेष:-

(ला, ली, लू, ले ,लो , चे, चो ,अ, कू)

तमाम अड़चनों के बावजूद भी आपका कार्य सफल होने की संभावना है।आज आप धैर्य,साहस व पराक्रम के साथ कार्य करेंगे पारिवारिक सहयोग मिलेगा। व्यापर में उत्तम लाभ प्राप्त होगा।शैक्षिक कार्य आज तरक्की प्रदान करेगा।

सुझाव:- आप सूर्य देव को अर्घ्य दें लाभ होगा।

राशिरत्न:-मूँगा

शुभ रंग:-धानी

?वृष:-

(वा, वी, वि, वू , वे ,वो ,ई ,उ, ए ओ)

आपके आत्मविश्वाश व वाणी कुशलता से लोग प्रभावित होंगे।पारिवारिक जीवन खुशहाल रहेगा।व्यक्ति विशेष से निश्चिततः लाभ व यश मिकेगा। शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। कारोबार में यथेक्षित लाभ मिलेगा।पारिवारिक सहयोग मिलेगा।

सुझाव:- आप शंख की पूजा करें और उसको बजाएं मंगल होगा।

राशिरत्न:-हीरा,ओपल

शुभ रंग :- मटमैला

? मिथुन:-

(का,की कु, के, को हा, घ ,छ, )

आपके किसी मित्र के सहयोग से अधूरे कार्य पूर्ण हो सकते हैं।अपनी शारीरिक ऊर्जा को व्यर्थ न गवाएं। विवाद व कुतर्क से दूर रहें। पारिवारिक कुशलता आज बरकरार रहेगी।व्यापार व नौकरी में उत्तम लाभ प्राप्त होगा।यात्रा सामान्य कष्ट हो सकता।

राशिरत्न:-पन्ना

सुझाव:- आप पंचगव्य का पान करें आपका शुभ होगा।

शुभ रंग – आसमानी

? कर्क:-

(डा, डी, डू, डे, डो, हे, हो,हू ,ही)

आपके मित्रो एवं परिजनों से आपसी तालमेल बना रहेगा। सामाजिक रीति- रिवाजों के प्रति जागरूक रहेंगे। धार्मिक कार्यों में मन लगेगा। महापुरुषों की कृपा आज मिलसकती है। पारिवारिक स्थितियों में सुधार होगा और व्यापार में उत्तम लाभ की संभावना बन रही है।

सुझाव:- आप काला छाता दान करें लाभ होगा।

राशिरत्न:-मोती

शुभ रंग – केसरिया

?सिंह:-

(मा, मी मू, मे, मो, टा, टि, टू, टै)

आपको अपनी सुख सुविधा बढ़ाने के लिए अधिक खर्च करना पड़ सकता है। कार्य व्यवसाय में लाभ।पेट सम्बन्धित बीमारी का सामना करना पड़ सकता है। कृषिकार्यों में उत्तम लाभ मिलेगा। यात्रा से लाभ मिलेगा। भूमि, वाहन व मिष्ठान्न भोजन का लाभ मिलेगा। घर में मांगलिक कार्यो का संपादन होगा।

सुझाव:- आप हनुमान जी का दर्शन करें लाभ होगा।

राशिरत्न:-माणिक्य

शुभ रंग – गुलाबी

??कन्या:-

( पा, पि, पू, पे, पो ष, म्, ठ टो)

आर्थिक व धार्मिक यात्रा का योग है।दबाव व तनाव का असर आपके सारे कार्यों पर दिख सकता है।नौकरी में थोड़ी मोड़ी अनबन हो सकती है। किंतु परिवार में समीप्यत बनी रहेगी। व्यापार में सामान्य लाभ की संभावना बन रही है।

सुझाव:-आप किसी पुनीत नदी में स्नान कर दीपदान करें आपका मंगल होगा।

राशिरत्न:-पन्ना

शुभ रंग -श्वेत

⚖तुला:-

(रे, रो, रा, री, ता, ती, तू, ते)

आप महत्वपूर्ण योजनाओं को सार्थक करेंगे।भौतिक सुख साधनों को जुटाने के लिए मन चिंतित हो सकता है। धार्मिक आयोजनों से यश व आयु व कीर्ति की प्राप्ति होगी। शैक्षिक कार्यों में प्रगति होगी सन्तान पक्ष से लाभ मिलेगा।

सुझाव:- आप हलदीयुक्त जल से स्नान करें उत्तम होगा।

राशिरत्न:-हीरा, ओपल

शुभ रंग -नीला

?वृश्चिक:-

(ना ,नी, नू ,ने ,नो ,तो, या ,यी ,यू)

आपका मन संतान को लेकर प्रसन्न रहेगा।आवेश में किये गए कार्य से कष्ट सम्भव है।आपसी सलाह से कामयाबी हासिल हो सकती है।सुदूर यात्रा का योग बन रहा है। व्यापर में उतार चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है।

सझाव:- आप भगवान श्री गणेश को मोदकों का भोग लगावें मंगल होगा।

राशिरत्न:-मूँगा

शुभ रंग – बैगनी

?धनु:-

(ये,यो,भा, भी,भू, भे, ध, फ,ढ)

आपको अपने किये के कार्यों में पूरा विश्वास होगा जिससे परिणाम अच्छा मिलेगा। धर्मिक कार्यों की अभिरुचि बढ़ेगी। व्यापार में सामान्य लाभ मिलेगा। सन्तान से सुख मिलेगा। यात्रा से स्वास्थ्य हानि हो सकती है।

सुझाव:- आप अन्न का दान करें लाभ होगा।

राशिरत्न:-पुखराज

शुभ रंग – चॉकलेटी

?मकर:-

(भे, जा,जी, जू जे जो खी, खू,खे, खो,गा, गी)

निकट संबंधों में भावनात्मक अपेक्षाएँ कष्टकारी हो सकती हैं।वाणी पर नियंत्रण रखें।पड़ोसियों से विवाद की संभावना बन सकती है। व्यक्ति विशेष से आर्थिक लाभ मिलेगा। व्यापर में मध्यम लाभ मिल सकता है।

सुझाव:- आप काली गाय को मिष्ठान्न दीजिये लाभ होगा।

राशिरत्न:-नीलम

शुभ रंग- फिरोजी

?कुम्भ:-

(गू, गे, गो,सा,सी,सू से,सो,दा)

व्यावसायिक क्षेत्र में आपकी प्रतिभा में निखार आएगा।धनागम का मार्ग प्रशस्त होने की संभावना बन रही है। सरकारी कार्यों में अड़चनें आ सजती है। पारिवारिक सहमति उन्नति दिलाएगी।

सुझाव:- आप देवालय में दीपक जलायें लाभ होगा।

राशिरत्न:-नीलम

शुभ रंग- सुनहला पीला

?मीन:-

(दी,दू,थ, झ, दे ,दो,चा, ची )

आपके अवरोधित कार्यों का समाधान होने की संभावना है।आपसी संबंधों में उपस्थित तनाव दूर होंगे।व्यापर में वृद्धि होगी। मित्रों का सहयोग मिलेगा यात्रा से सामान्य लाभ होगा।कृषिकार्यों से लाभ मिलेगा।

सुझाव:- आप देवालय में नारियल अर्पण करें लाभ होगा।

राशिरत्न:-पुखराज

शुभ रंग – लाल

।।दिनकाविशेषमहत्व।।

1. कार्तिक माह शुक्लपक्ष पूर्णिमा तिथिहै।
2. स्नान दान कार्तिक पुंर्णिमा है।
3. मत्स्यावतार व गुरुनानक जयंती है, पुष्कर मेला ,सरयू स्नान है।

।।प्रेरणा दाई चौपाई।।

सीता चरन भरत सिरु नावा।
अनुज समेत परम सुख पावा।।

अर्थ:- कवि श्रेष्ठ गोस्वामी तुलसीदास जी वर्णन करते हैं कि श्री किशोरी जी के चरणों को श्री भरत ने प्रणाम किया और अपने अनुजों के साथ अत्यंत सुख का अनुभव किया । वास्तव में आपस के प्रेम में सुख का विशेष अनुभव होता है।अस्तु वास्तविक सुख स्वार्थपरकता से नहीं अपितु पर्मार्थपरक होता है।

।।वास्तु टिप।।

अपने घर मे श्वेतार्क का पौधा घर के दक्षिणपश्चिम दिशा या पूर्व दिशा में आरोपित करने से घर मे वास्तुदोष नही प्रवेश करता।क़

।।इति शुभम् ।।

।।आचार्य स्वामी विवेकानंद।।
।।श्री अयोध्या धाम।।
।।श्रीरामकथा, श्रीमद्भागवत कथा प्रवक्ता व ज्योतिर्विद।।
संपर्क सूत्र-9044741252

ये भी देखें:

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...