ओलंपिक में रजत पदक पाने वाली भारत की पीवी सिंधु को रविवार को ग्लासगो में वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप के महिला एकल फाइनल में रजत पदक से संतोष करते हुए भी इतिहास रच दिया। इस पर पीएम मोदी ने उन्हें बधाई दी है।

खेल से जीत लिए दिल

सिंधु को जापान की नोजोमी ओकुहारा ने हराया। रोमांच की पराकाष्ठा पर पहुंचे बैडमिंटन मैच में शिकस्त के साथ सिंधु इस खेल में देश की पहली विश्व चैंपियन बनने से भले चूक गईं, पर उनके खेल ने लोगों का दिल जीत लिया।

पीवी सिंधु अब बड़े पर्दे पर लगाएंगी बड़े-बड़े शॉट

जापानी खिलाड़ी ने हराया

दुनिया की चौथे नंबर की खिलाड़ी सिंधु को एक घंटा और 50 मिनट चले बैडमिंटन मुकाबले में दुनिया की 12वें नंबर की खिलाड़ी और ओलंपिक कांस्य पदक विजेता ओकुहारा के खिलाफ 19-21, 22-20,  20-22 से हार झेलनी पड़ी।

साइना को मिला रजत

ओकुहारा ने इससे पहले सेमीफाइन में भारत की ही साइना नेहवाल को हराया था। इससे साइना की झोली में कांस्य पदक गया। इसके बावजूद भारत के लिए यह वर्ल्ड चैंपियनशिप यादगार रही।

अपनी बॉयोपिक में एक्टिंग भी करेंगी बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु

देश को सिंधु पर गर्व

इतिहास बनाते हुए पहली बार भारत ने इस प्रतिष्ठित प्रतियोगिता में दो पदक जीता। बैडमिंटन में सिंधु की इस जीत पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उनकी तारीफ की। मोदी ने कहा कि देश को उन पर गर्व है।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...