भारत ने पोर्ट एलिजाबेथ में खेले गए 5वें वनडे मैच में दक्षिण अफ्रीका को 73 रनों से हराकर सीरीज जीत ली. हालांकि 6 मैचों की सीरीज का अंतिम मैच अभी खेला जाना बाकी है, जिसमें भारत 4-1 से आगे हैं. पांचवें एकदिवसीय में रोहित शर्मा की शतकीय पारी के लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच से नवाजा गया. रोहित ने इस पारी में 11 चौके और 4 छक्के लगाकर 126 गेंदों पर 115 रन बनाए. रोहित ने ये शतक जरूर बनाया, लेकिन उनके इस शतक में एक ख़ास बात भी शामिल थी.

रोहित शर्मा की शतकीय पारी

दरअसल 13 अंक को ज्यादातर लोग अपने लिए अशुभ मानते हैं. जबकि 13 तारीख रोहित शर्मा के लिए एक बार फिर से लकी साबित हुई है और रोहित ने इस तारीख में शतक बनाया है. रोहित इससे पहले भी 13 तारीख को ऐसे कारनामे कर चुके हैं. 13 नवंबर 2014 को रोहित शर्मा ने अपना पहला दोहरा शतक लगाया था. उसके बाद 13 दिसंबर 2017 को उन्होंने अपनी दूसरी दोहरी शतकीय पारी खेली. इसके बाद अब फिर से 13 फरवरी को रोहित के बल्ले ने कठिन परिस्थितियों में शतक लगाया. ख़ास बात ये कि जब रोहित खेल रहे थे तो लोग इस बात का कयास लगाने लगे थे कि आज भी 13 तारीख है और रोहित अच्छा खेल रहे हैं, ऐसे में क्या आज भी दोहरा शतक जमायेंगे.


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


जब उन्हें मैन ऑफ़ द मैच अवार्ड मिला उसके बाद रोहित ने कहा- ‘पिछले कई मैचों से मेरे बल्ले से रन नहीं निकल रहे थे. मुझे अपनी लय वापस पाने के लिए एक अच्छी पारी की जरूरत थी. जब बल्लेबाजी करने उतरा, तो मन में कुछ बातें थीं. मैं कुछ प्लान बनाकर आया था और मैंने उसी प्लान के तहत बल्लेबाजी की.’

ध्यान देने वाली बात ये है कि भारतीय वनडे टीम के उपकप्तान रोहित शर्मा के लिए दक्षिण अफ्रीका का ये दौरा अच्छा नहीं रहा. पहले टेस्ट सीरीज के दो मैच की 4 पारियों में वे कुल 78 रन ही बना सके. इसके बाद शुरूआती 4 वनडे मैचों में भी कोई खास स्कोर नहीं बनाया. इसके बाद रोहित सभी के निशाने पर थे. लेकिन पांचवें वनडे की शतकीय पारी ने रोहित के जहाँ सारे गुनाह माफ़ कर दिए. वहीँ रोहित को भी फॉर्म में वापसी पर सुकून मिला होगा. उम्मीद है आगे भी रोहित के बल्ले से आग उगलती नज़र आएगी.

ये भी देखें:

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...