दुनिया जानती है कि भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली दिल्ली के हैं। लेकिन यह सच नहीं है। विराट कोहली के पुरखे मध्‍यप्रदेश के कटनी में रहते थे। विभाजन के वक्त विराट कोहली के दादा कटनी आ गए थे। यहीं पर विराट के पिता प्रेम कोहली का जन्म हुआ और बचपन बीता। फिर बड़े होकर जब परिवार की‍ जिम्मेदारी बढ़ी, तो विराट के पिता ने दिल्ली का रुख किया और वही के होकर रह गए।

अपने कप्तान कोहली के समर्थन में कुछ यूं खुलकर आए गेंदबाज मोहम्मद शमी

कटनी में विराट के चाचा-चाची आज भी रहते हैं। विराट साल 2005 में अपने चचेरे भाई के देहांत पर यहां आए थे। वह स्टार बन चुके हैं, इसलिए अब रिश्‍तेदारों को ज्यादा वक्त नहीं दे पाते। हालांकि विराट की मां सरोज और चाची आशा कोहली के बीच अकसर बातचीत होती रहती है।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


विराट कोहली दिल्ली के हैं

साभार: भास्कर डॉट कॉम

आशा कोहली कटनी शहर की मेयर रह चुकी हैं। उनके चाचा गिरीश कोहली बताते हैं कि विराट के पिता प्रेम कोहली ने कटनी के गुलाबचंद स्कूल से पढ़ाई की थी।

एक भी मैच में मैदान पर नहीं उतरते, लेकिन कप्तान कोहली से ज्यादा है इनकी सैलरी

विराट कोहली के चाचा, चाची और चचेरा भाई
साभार: भास्कर डॉट कॉम

वो बताते हैं कि विराट ने जब अंतरराष्‍ट्रीय करियर शुरू किया, उसके बाद उनसे एक-दो बार ही बातचीत हो गई। लेकिन विराट के भाई विकास और उनकी मां सरोज से बातचीत होती रहती है। गिरीश कोहली ने बताया कि कटनी में विराट का पुश्‍तैनी घर बेच दिया गया है।

विराट के चचेरे भाई रूपक‍ कोहली उनसे काफी प्रभावित हैं। रूपक अपने भाई की तरह बाल और दाढ़ी रखते हैं। वह गुरुग्राम की एक मल्टीनेशनल कंपनी में काम करते हैं।

ये भी देखें:

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...