भारतीय क्रिकेट टीम ने एकदविसीय सीरीज के छठे मैच में भी जीत दर्ज की. सीरीज की खासियत ये रही कि श्रृंखला में अपने चीकू बाबा यानी कैप्टन विराट कोहली ने जहां छठे मैच में शतक के साथ सीरीज में 500 से ज्यादा रन ठोंके तो वहीँ चाक़ू यानी युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की जोड़ी ने शानदार गेंदबाजी का नमूना पेश किया. इसी का नतीजा है कि भारत ने ये सीरीज 5-1 से अपने नाम की.

युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की जोड़ी

साउथ अफ्रीका दौरे में भारत के इन दोनों कलाई के जादूगरों युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव ने अफ्रीकी बल्लेबाजों की खूब खबर ली. इनकी खतरनाक गेंदबाजी का नमूना इनके द्वारा लिए गए 33 विकेट बताते हैं. पूर्व भारतीय ओपनर बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग ने दोनों की पीठ ठोकने वाला ट्वीट किया है और दोनों को संयुक्त रूप से एक नाम ‘चाक़ू’ से संबोधित किया है.


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


वनडे सीरीज में चाइनामैन कुलदीप यादव जहाँ 17 विकेट लेकर टॉप पर रहे, तो वहीँ उनके दूसरे फिरकी साथी युजवेंद्र चहल के खाते में 16 विकेट आए हैं. हालांकि इसके साथ ही कुलदीप ने एक बड़ा रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया. अफ्रीकी धरती पर किसी बाइलैटरल यानी द्विपक्षीय सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में अफ्रीकी गेंदबाज क्रेग मैथ्यूज की बराबरी भी कर ली है. क्रेग ने ये रिकॉर्ड 24 साल पहले बनाया था.

साउथ अफ्रीकी गेंदबाज क्रेग मैथ्यूज ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एकदिवसीय सीरीज के 7 मैचों में 17 विकेट निकाले थे, जबकि कुलदीप ने उनसे एक मैच कम खेलकर ही 17 विकेट चटकाये हैं. इसके अलावा युजवेंद्र चहल 16 विकेट के साथ दूसरे स्थान पर रहे. फिलहाल इन दोनों के अलावा कोई और गेंदबाज अफ्रीकी धरती पर वनडे बाइलैटरल सीरीज में 13 विकेट से ज्यादा नहीं ले पाया है.

अफ्रीकी धरती पर द्विपक्षीय सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले

17 विकेट – क्रेग मैथ्यूज, साउथ अफ्रीका ( विरुद्ध ऑस्ट्रेलिया 1994, 7 मैच)

17 विकेट – कुलदीप यादव , भारत ( विरुद्ध साउथ अफ्रीका 2018, 6 मैच)

16 विकेट – युजवेंद्र चहल , भारत ( विरुद्ध साउथ अफ्रीका 2018, 6 मैच)

ये भी देखें:

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...