डेरा मुखिया गुरमीत राम रहीम सिंह की दत्तक पुत्री हनीप्रीत को भगोड़ा घोषित करने की प्रक्रिया पुलिस ने शुरू कर दी है। इसके साथ दो और लोगों को भगोड़ा अपराधी घोषित किया जाएगा। तीनों की संपत्ति भी कुर्क होगी।

डीजीपी ने दी जानकारी

हरियाणा के डीजीपी बीएस संधू ने शनिवार को बताया कि हनीप्रीत और डेरा के प्रमुख पदाधिकारियों आदित्य इंसा और पवन इंसा की संपत्ति कुर्क होगी। इन्हें भगोड़ा भी घोषित किया जाएगा। रेप के मामले में राम रहीम को दोषी ठहराए जाने के बाद हुई हिंसा के सिलसिले में हनीप्रीत और अन्य दो को गिरफ्तार करने की कोशिश जारी है।

मिला वो सेट, जहाँ राम रहीम हनीप्रीत के साथ खेलता था बिग बॉस


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चेतावनी

डीजीपी ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चेतावनी जारी की गई है। टीम छापेमारी कर रही है। उन्होंने डेरा में सत्संग के आयोजन की अनुमति दिए जाने से इनकार किया। कहा कि मैं उनको आगाह करना चाहता हूं कि पेश होकर अपने पक्ष से अवगत कराएं।

नेपाल में हनीप्रीत के 10 गेटअप, बेटी अपने बाप से भी निकली आगे

अब तक 1100 गिरफ्तार

संधू ने बताया कि डेरा सच्चा सौदा प्रकरण में अब तक करीब 1100 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। हनीप्रीत और उसके साथ फरार अन्य आरोपियों से अपील की गई है कि यदि वे निर्दोष हैं तो खुद पेश हो जाएं। अन्यथा पुलिस फरार लोगों को भगोड़ा घोषित कर संपत्ति कुर्क कर लेगी।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...