कांग्रेस में नया युग प्रारम्भ होने वाला है. लम्बे इंतज़ार के बाद नेहरू-गांधी खानदान के चिराग राहुल गांधी ने कांग्रेस पद के लिए नामांकन भरा है. लेकिन उनके अध्यक्ष बनने से पहले उनके करीबी और रिश्तेदार ने जो आरोप उन पर लगाए हैं, वे उनके लिए असहज कर देने वाले हैं. दरअसल शहजाद पूनावाला ने उनकी ताजपोशी की मिठास में खटाई घोल दी है.

कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए राहुल की ताजपोशी की प्रक्रिया प्रारम्भ, भरा नामांकन

कांग्रेस में नया युग


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


अब तक भारतीय जनता पार्टी कांग्रेस पर वंशवाद का आरोप लगाती आई है, लेकिन अब इसे लेकर कांग्रेस में भी बगावत के सुर उठने लगे हैं. महारष्ट्र कांग्रेस के नेता और राहुल गांधी के रिश्तेदार शहजाद पूनावाला राहुल की अध्यक्ष पद पर ताजपोशी को लेकर सवालिया निशाँ लगा रहे हैं.

पीएम मोदी ने गुजरात के भरूच में रैली को संबोधित करते हुए मंच से शहजाद पूनावाला के इस कदम की तारीफ भी की थी. उसके बाद कांग्रेस के अध्यक्ष चुनाव पर राहुल को लेकर व्यापक चर्चा होने लगी है.

राहुल के नामांकन भरने से पहले शहजाद ने एक नया आरोप लगाया है. शहजाद का कहना है कि, ‘कांग्रेस के भीतर मुझे बताया गया कि वंशवाद के समर्थक शहजादा के खिलाफ ‘डमी कैंडिडेट’ उतारे जायेंगे. ये ढोंग क्यों?’

शहजाद ने इसे कांग्रेस पार्टी के इतिहास का ‘काला दिवस’ करार दिया है. शहजाद ने कहा कि उन्हें बताया गया कि शहजाद आज पार्टी कार्यालय आकर दूसरे सफदर हाशमी नहीं बनेंगे.

पीएम मोदी ने रैली में कहा था कि शहजाद ने जब राहुल की ताजपोशी को लेकर सवाल उठाए तो उन्हें सोशल मीडिया के हर ग्रुप से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया. कांग्रेस के आंतरिक लोकतंत्र पर भी पीएम मोदी ने सवाल उठाए. शहजाद पूना वाला रॉबर्ट वाड्रा के रिश्तेदार भी हैं.

ये भी देखें:

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...