आप भी कहीं इस ख्‍वाहिश में तो नहीं हैं कि नए साल के मौके पर लखनऊ में सीएम आवास के बाहर खड़े होकर सेल्‍फी लेंगे। ऐसा है, तो पहले ही अलर्ट हो जाइए और कान पकड़ लीजिए कि आप ऐसा बिल्‍कुल भी नहीं करेंगे। कारण है कि ऐसा करने पर आप कहीं और नहीं, बल्‍कि सीधा जेल पहुंच जाओगे। कैसे, आइए बताएं।

ऐसी मिली है खबर
खबर सुनने को मिली है कि यूपी में मुख्यमंत्री के सरकारी आवास के आसपास सेल्फी लेना अब आपको जेल की सैर करा सकता है। दरअसल बुधवार शाम सीएम आवास 5 कालिदास मार्ग जाने वाली सड़क पर एक बोर्ड लगाया गया है। इस बोर्ड में लिखा गया है कि इस वीआईपी इलाके में फोटो या सेल्फी लेना प्रतिबंधित है और अपराध की श्रेणी में आता है। ऐसा करते पकड़े जाने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


फिलहाल हटाया गया बोर्ड
हालांकि मामले को मीडिया में तूल पकड़ता देख पुलिस ने इस बोर्ड को फिलहाल हटा दिया है। वहीं दूसरी ओर इस बोर्ड की तस्वीर वायरल होते ही पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी यूपी पुलिस की इस कारस्तानी पर तंज कसते हुए ट्वीट किया है।

पढे़ इसे भी : शाम से शुरू होने वाले विरुष्‍का के रिसेप्‍शन में होगा क्‍या खास, जल्‍दी पढ़ लीजिए यहां 

ऐसा लिखा अखिलेश यादव ने
अपने ट्विट में उन्होंने लिखा है कि, ‘नए साल में जनता को उत्तर प्रदेश सरकार का तोहफा, सेल्फी लेने पर लग सकता है यूपीकोका!’ गौरतलब है कि यूपी पुलिस ने जहां इस बोर्ड को लगाया है उसे मायावती के शासन काल में बनवाया गया था, लेकिन इस रास्ते से आमजन के आने-जाने पर प्रतिबंध था।

पढ़ें इसे भी : अनुष्‍का के जिंदगी में आते ही विराट ने किंग खान को भी छोड़ा पीछे, बने सेलिब्रिटी ब्रांड

क्‍या सोचा है आपने
अखिलेश यादव के मुख्यमंत्री बनते ही इस रोड को आम लोगों के लिए खोल दिया गया था। वहीं अब ये फोटो न लेने की हिदायत वाले बोर्ड का मामला। तो अब ज़रा आप बताइए कि आपने क्‍या सोचा है सीएम आवास के बाहर सेल्‍फ़ी लेने को लेकर।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...