पाकिस्तान : एक तरफ जहां पाकिस्तान में आतंकवाद फल-फूल रहा है वहीं दूसरी तरफ आपसी रिश्ते भी शर्मशार होने लगे हैं। पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में बलात्कार का विरोध करने पर एक लड़की की उसके अपने भाई ने ही हत्या कर दी। पुलिस के मुताबिक भाई ने अपना जुर्म कबूल लिया है। यह घटना क्वेटा के किल्ली इस्माइल इलाके में हुई।

बलूचिस्तान

यहाँ बलात्कार का विरोध करने की सजा एक बहन ने अपने ही भाई के हाथो जान गवा कर पाई। भाई की दरिंदगी का शिकार हुई बालिका की उम्र महज 13 साल है। पुलिस ने बताया कि मृतका के भाई ने दावा किया कि वह घर से 30 मिनट के लिए बाहर निकला था, जब वह लौटा तो उसने बहन का सिर दुपट्टा से बंधा हुआ देखा। लेकिन यह बात झूठी निकली।


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


पाकिस्तान ने भी ‘पद्मावत’ को अपनाया, लेकिन ‘यू’ सर्टिफिकेट के साथ

जांच-पड़ताल में पता चल रहा था कि भाई झूठ बोल रहा था। बाद में जब पुलिस ने दबाव बनाया तो भाई ने सच्चाई बताई। क्वेटा के पुलिस उपमहानिरीक्षक अब्दुल रज्जाक चीमा ने बताया कि लड़की के भाई ने स्वीकार किया कि दुष्कर्म का विरोध करने पर उसकी हत्या कर दी पुलिस आरोपी की हिरासत के लिए उसे अदालत में पेश करेगी। सूत्रों के अनुसार पुलिस मामले की जांच में जुटी है। अब तक प्राप्त सूचना के मुताबिक डीआईजी ने बताया की आरोपी के रक्त के नमूने को फॉरेंसिक जांच के लिए लाहौर भेजा है। रिश्तो को बेआबरू करती इस घटना से फ़िलहाल इलाके में सनसनी फ़ैल गई है। वही भाई पुलिस गिरफ्त में है। खबरों के मुताबिक अभी उसके मां-बाप की कोई खबर नहीं है। पुलिस उनसे पूछताच करेगी।

ये भी देखिए…

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...