तीन तलाक का जिन्न एक बार फिर बाहर आया है, जबकि एक साथ तीन तलाक को सुप्रीम कोर्ट ने अवैध करार दिया है। इस बार किसी एेसे-वैसे ने नहीं, अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में संस्कृत विभाग के प्रोफेसर ने अपनी पत्नी को व्हाट्सएप के जरिए तलाक दिया।

23 साल पुरानी शादी तोड़ दी

यह शादी कोई दो-चार पुरानी नहीं, बल्कि 23 साल पुरानी है। पति अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में संस्कृत विभाग के चेयरमैन हैं। दोनों के बीच मारपीट-लड़ाई झगड़े होते रहे हैं। उनके रिश्तों की फाइलें पुलिस से लेकर महिला थाने तक घूमती रही हैं।

तीन तलाक मामले में नया मोड़, पर्सनल लॉ बोर्ड ने लिया सबसे बड़ा फैसला


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


पुलिस कई बार कर चुकी तलब

कई दफा प्रोफेसर को पुलिस ने तलब भी किया लेकिन वह नहीं आए। अंत में व्हाट्सएप पर तलाक दे दिया। अब पत्नी का कहना है कि इंसाफ नहीं मिला तो वो मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री तक शिकायत करेंगी।

तीन तलाक के मुद्दे पर आ गया सुप्रीम कोर्ट का फैसला, गेंद अब मोदी सरकार के पाले में

एएमयू में मच गया हड़कंप

अलीगढ़ के एसएसपी राजेश कुमार पांडेय ने कहा कि पुलिस को मामले की जानकारी है। इस बात की जांच की जा रही है कि कौन सी धारा लगाई जाए। वहीं, व्हाट्सएप पर तीन तलाक की घटना ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में हड़कंप मचा दिया है।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...