भाजपा पश्चिम बंगाल में अपने पैर मजबूत करने की कोशिश में लगी है, लेकिन उससे पहले ही पश्चिम बंगाल भाजपा में फूट के आसार दिखाई दे रहे हैं. इसका कारण पार्टी की सांसद और पश्चिम बंगाल में बीजेपी लीडर रूपा गांगुली हैं, जिन्होंने पार्टी के पश्चिम बंगाल के प्रभारी दिलीप घोष पर अभद्रता के आरोप लगाए हैं.

पूर्व अभिनेत्री रूपा गांगुली ने ये आरोप रात साढ़े 12 बजे ट्वीट कर लगाए हैं. रूपा ने दिलीप घोष पर उन्हें सार्वजनिक तौर पर बेइज्जत करने के आरोप लगाए हैं. रूपा ने ट्वीट किया, ‘मैं पीएम मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से तो संपर्क कर सकती हूँ, लेकिन दिलीप से संपर्क करना मुश्किल हो रहा है.

रूपा का कहना है कि राज्य के पार्टी प्रभारी दिलीप घोष के मीडिया प्रभारी ने उन्हें घोष तक पहुंचने से रोक दिया है.


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


रूपा ने ट्वीट में दिलीप को टैग करके लिखा, ‘दिलीप अपने मीडिया प्रभारी से मुझसे संपर्क करने को कहें. पार्टी के कोर कमेटी ग्रुप पर भी कोई किसी के मैसेज का जवाब नहीं देता. लग रहा है मुझे आपको मैसेज करने से भी रोका गया है.’

उन्होंने लिखा, ‘मैं मोदी जी को मैसेज कर सकती हूं, मैं अमित भाईसाहब से भी बात कर सकती हूं, लेकिन आपसे नहीं कर सकती… आप मुझ पर लोगों के बीच में चिल्लाए, मुझे गाली दी, मैं चुप रही, क्योंकि मेरे पापा ने मुझे सिखाया कि बड़ों की बात सुनो और उनका कहना मानो. फिर भी आपने सार्वजनिक रूप से मुझ पर टिप्पणी की और परेशान किया.’

रूपा ने ट्वीट में पीएम मोदी को टैग करके लिखा, ‘सर मोदी, आपके अलावा कोई नहीं सुनता है…. हम लोग कोऑपरेटिव फेडरलिज्म में भरोसा नहीं करते.’

बीजेपी की सारी कवायद 2021 विधानसभा चुनाव को लेकर तो है ही, साथ ही 2019 के चुनाव में भी राज्य से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है. लेकिन उससे पहले ये फूट कहीं उसका समीकरण न बिगाड़ दे.

ये भी देखें:

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...