सशस्त्र सेनाओं में महिलाओं की भूमिका बढ़ाने के प्रयासों के तहत भारतीय नौसेना ने एक नया मुकाम बनाया है। नौसेना ने पहली बार किसी महिला पायलट की नियुक्ति की है। साथ ही तीन एनएआई शाखा में भी तीन महिला अफसर नियुक्त की गई हैं।

यूपी की रहने वाली हैं शुभांगी

उत्तर प्रदेश की शुभांगी स्वरूप जल्द ही मेरीटाइम रिकानकायसन्स विमान उड़ाती दिखाई देंगी। इसके अलावा नई दिल्ली की आस्था सेगल, पुडुचेरी की ए. रूपा और केरल की एस. शक्ति माया को नेवल आर्मामेंट इंस्पेक्टोरेट (एनएआई) शाखा में देश की पहली महिला अधिकारी बनने का गौरव हासिल हुआ है।

पासिंग आउट परेड में शामिल

इन चारों महिलाओं ने बुधवार को एक कार्यक्रम में एझीमाला नौसेना अकादमी में नेवल ओरियन्टेशन कोर्स पास करने के बाद पासिंग आउट
परेड में हिस्सा लिया। इस समारोह में नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा भी मौजूद थे।

वायुसेना के 12 हज़ार अफसरों को ख़त, एक इशारे पर करना होगा दुश्मन पर हमला

पर्यवेक्षक अधिकारी पहले भी रहीं

दक्षिणी नेवल प्रवक्ता कमांडर श्रीधर वॉरियर ने गुरुवार को बताया कि वैसे तो शुभांगी नेवी में पहली पायलट हैं।  लेकिन नौसेना की एविएशन ब्रांच में पहले भी वायु यातायात नियंत्रण अधिकारी और विमान में पर्यवेक्षक अधिकारी के तौर पर महिलाएं काम कर चुकी हैं।

एनएआई शाखा का यह है काम

एनएआई शाखा पर नेवी के हथियारों और गोला-बारूद के ऑडिट एवं आकलन की जिम्मेदारी होती है। कमांडर वॉरियर ने कहा कि सभी चारों महिला अधिकारियों को ड्यूटी पर तैनात किए जाने से पहले उनकी चुनिंदा शाखाओं में प्रशिक्षण दिया जाएगा।

चीन की चालों का जवाब देंगे इंडियन नेवी के 111 नए हेलीकॉप्टर

हैदराबाद में मिलेगा प्रशिक्षण

शुभांगी को हैदराबाद में वायु सेना अकादमी में प्रशिक्षण दिया जाएगा, जहां सेना, नौसेना और वायु सेना के पायलटों को प्रशिक्षण दिया जाता है। इसके बाद उनकी तैनाती की जाएगी।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...