रेप का दोषी डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सोमवार को कोर्ट में रो पड़ा। एक बार सजा सुनाए जाने से पहले रहम की अपील करते रोया तो दूसरी बार फैसला सुनकर। हालांकि स्पेशल कोर्ट ने बाबा को 20 साल कैद सुनाई।

जज से की अपील

रेप के मामले में दोषी राम रहीम ने सजा के ऐलान से पहले रोहतक जेल में स्पेशल जज जगदीप सिंह लोहान के सामने हाथ जोड़कर अपील की। कहा कि समाजसेवा के लिए बहुत काम किया है। इसलिए रहम किया जाए।

रेपिस्ट राम रहीम पर फैसले के बाद सीएम खट्टर से फिर हुई गलती, हिली गद्दी


हमसे फेसबुक पर भी जुड़ें!


कम से कम सजा

राम रहीम ने कहा कि उसे कम से कम सजा दी जाए। सिर पर सफेद रंग के कपड़े का फटका बांधे डेरा प्रमुख ने कहा कि जज साहब हम समाजसेवी हैं, हमारी सेवा को ध्यान में रखा जाए। कोर्ट में बाबा बैठकर फूट-फूट कर रोया।

बहस के बाद सजा

इसके बाद स्पेशल कोर्ट में बहस हुई। इस दौरान राम रहीम हाथ जोड़े खड़ा रहा। बहस पूरी होने के बाद जेल में ही बनाई गई स्पेशल कोर्ट में सजा सुनते ही बाबा फिर रोने लगा। कोर्ट के फैसले के बाद बाबा को जेल भेज दिया गया है। वहां बाबा को सामान्य कैदी की तरह रहना होगा।

मर्द के लिए भी बेदर्द राम रहीम, रेप पर फैसले से ठीक पहले हुआ नया खुलासा

डेरे के बाहर गाड़ी फूंकी

इस बीच खबर आ रही है कि सिरसा में डेरा समर्थकों ने राम रहीम के मुख्यालय से बाहर लाकर दो गाड़ियों में आग लगा दी। प्रथमदृष्टया यही माना जा रहा है कि फैसले के खिलाफ यह कदम उठाया गया।

जे पसंद आया?
तो हम भी पसंद आएंगे, ठोको लाइक

Follow on Twitter!
loading...